Breaking News

शिवभक्तों ने दिया प्रबंध समिति के निर्णय के विरोध में धरना : नहीं बदला निर्णय तो होगा उग्र प्रदर्शन

ओम नमः शिवाय, प्रबंध समिति की तानाशाही नहीं चलेगी नहीं चलेगी…,

मंदसौर। अष्टमुखी भूतभावन भगवान श्री पशुपतिनाथ महोदव को श्रावणमास में जलाभिषेक एवं स्पर्श भक्त नहीं कर पाएगें। इस निर्णय के बाद से भक्तों में भारी आक्रोश व्याप्त है। जिसको लेकर सोमवार को प्रातःकाल आरती मण्डल के बैनर तले सभी शिवभक्तों ने स्थानीय गांधी चौराहा विश्वपति शिवालय के बाहर धरना प्रदर्शन कर प्रबंध समिति के निर्णय के खिलाफ जमकर आक्रोश व्यक्त किया और धरना के बाद तहसीलदार को एक ज्ञापन मुख्यमंत्री के नाम सौंपा और आगे की उग्र आंदोलन की रणनीति तय की गई। इस दौरान बडी संख्या में शिवभक्त उपस्थित थे।

उक्त जानकारी भगवान श्री पशुपतिनाथ प्रातःकाल आरती मण्डल के अध्यक्ष एवं नपा अध्यक्ष प्रहलाद बंधवार, संरक्षक पं.दिलीप शर्मा, प्रवक्ता जगदीश पुरसवानी, उमेश परमार ने देते हुए बताया कि निर्णय के विरोध में सोमवार को सुबह 10 बजे से धरना प्रारंभ हुआ। धरने में शिवभक्तों का जोश देखते ही बन रहा था। महिला, पुरूष एवं युवाओं ने जहां प्रबंध समिति के खिलाफ जमकर नारेबाजी की और श्रावणमास में भगवान को जलाभिषेक एवं पूजन किये जाने की मांग की और सभी ने अपने उद्बोधन में कहा कि श्रावणमास में दूर दूर से श्रद्धालु दर्शन करने के लिए आते है साथ ही आस पास के ग्रामीण अंचलों एवं दूरस्थ शहरों से कावड़यात्रियों का सैलाब उबरता है ऐसे में सभी शिवभक्तों की भावना को आहत किया जा रहा है। धरने के बाद दोपहर तीन बजे प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराजसिंह चौहान के नाम एक ज्ञापन तहसीलदार को सौंपा गया। जिसमें श्रावणमास में भगवान का जलाभिषेक करने की मांग की गई। ज्ञापन का वाचन महाचिव ज्योतिप्रकाश जाजपुरिया ने किया।

इस अवसर पर विष्णुनारायण कश्यप, लोकेन्द्र भटनागर, परसराम शर्मा, भाजपा महामंत्री महेन्द्र चौरडिया, अजयसिंह चौहान, राष्ट्रीय स्वयं सेवक संघ के प्रचार प्रमुख रविन्द्र पाण्डे, चन्द्रप्रकाश शर्मा, छोटू राजू परमार, नपा उपाध्यक्ष सुनिल जैन महाबली, भाजपा नेता अंबालाल चौहान, राम राठौर, लोकेन्द्र कुमावत, जितेन्द्र व्यास, दिलीप पालीवाल, नपा सभपति मुकेश खमेसरा, पुलकित पटवा, पारसमल मेहता सहित महिला मण्डल पदाधिकारी उपस्थित थी। अंत में आभार मंडल प्रवक्ता उमेश परमार ने माना।

यह लगाए नारे
धरना प्रदर्शन में शिवभक्तों का जोश देखते ही बन रहा था। शिवभक्तों ने भोले शंभू… भोले नाथ… बोल बम… बोल बम…, ओम नमः शिवाय, प्रबंध समिति की तानाशाही नहीं चलेगी नहीं चलेगी…, अभी तो ये अंगडाई है आगे और लड़ाई है आदि नारे शिवभक्तों द्वारा लगाए गए है। साथ ही लाउड स्पकीर पर ओमः नमः शिवाय का धुन भी बज रही थी जो शिव भक्ति में डूबों रही थी।

यह कहा अध्यक्ष ने
नपाध्यक्ष प्रहलाद बंधवार ने कहा कि प्रबंध समिति द्वारा द्वेषतापूर्ण और तुगलकी निर्णय लिया गया है जिससे शिवभक्तों की भावनाएॅ आहत हुई है। समिति से कई बाद निवेदन किया लेकिन हमारे निवेदन को उन्होने नजरअंदाज कर दिया। मजबूर होकर आज हम शिवभक्तों को धरना प्रदर्शन करना पड़ा। यह निर्णय प्रबंध समिति वापस ले और भक्तों की भावना अनुरूप अभिषेक पूजन की अनुमति प्रदान करे। यदि निर्णय नहीं बदला लगा तो उग्र प्रदर्शन किया जायेगा जिसकी समस्त जिम्मेदारी प्रबंध समिति की होगी।

About The Author

I am Brajesh Arya

Related posts