Breaking News

श्री पशुपतिनाथ की शाही सवारी के साथ ओखाबावजी भी निकलेंगे नगर भ्रमण पर

मन्दसौर। 31 जुलाई 2017 को भगवान श्री पशुपतिनाथ की शाही सवारी के साथ ही भगवान शिव के गण तथा दशपुर नगर के द्वारपाल चन्द्रपुरा स्थित श्री ओखाबावजी (बटूक भैरव) की सुसज्जित सवारी में नगर भ्रमण कर नगरवासियों के दुःख दर्द दूर करेंगे। बटूक भैरवनाथ (ओखाबावजी) दशपुर नगरी के द्वारपाल है उनकी महिमा अपार है जिनके दर्शन तथा मंदिर परिसर में स्थित कुएं के जल के सेवन मात्र से कई असाध्य रोग दूर हो जाते है। सात देवों के रूप प्रतिष्ठित होकर ओखाबावजी सात प्रकार की बीमारियों को भी दूर करते हैं। इनमें ओखाबावजी-बुखार, टाईफाईड, छोटे बच्चों को नजर से बचाव जिससे उन्हें होने वाली बिमारियों को दूर करना, शरीर पर बारिक दाने होना, पानीझरा बावजी-आंखो से आंसू आना, पानी पीने की मात्रा बढ़ना, बेरा बावजी-कानों से सुनाई न देना, आंखों की रोशनी कम हो जाना, बेण्डा बावजी-मानसिक संतुलन बिगड़ना, गुंगा बावजी-गले से आवाज बंद होना, अनोखा बावजी-बुरे स्वप्न आना, बहकी हुई बातें करना आदि विशेष प्रकार के रोगों को हरकर अपने भक्तों के कष्ट दूर करते हैं।

सेवा समिति मंदसौर ने सभी धर्मालुजनों से महाअभिषेक व शाही सवारी में सम्मिलित होने की अपील की है। इस बार ओखाबावजी को आशीर्वाद देते हुए झांकी का आयोजन किया जाएगा, यह झांकी जगदीश पेंटर नाटाराम एवं कलाकारेां द्वारा बनाई जाएगी। यह जानकारी शैलेन्द्रगिरी गोस्वामी ने दी।

About The Author

I am Brajesh Arya

Related posts