Breaking News

संजीत व कयामपुर टप्पा क्षेत्र मे सिंचाई योजना मंजूरी मिले

बरखेड़ा डांगी निप्र। चंबल शिवना संगम स्थल ऐलवी महादेव से नहर परियोजना के लिए अन्नदाता किसान कई सालो से मांग करते आ रहे है। किसानों ने मुख्यमंत्री के नाम कई बार आवेदन दिया है। जल संसाधन विभाग को भी समय- समय पर अवगत कराया गया है। भोपाल में भी किसानो आवेदन दिया था। किसानों ने चंबल शिवना संगम स्थल से नहर बनाई जाए तो कई गांव के किसानों को इससे नहर योजना का मिलेगा।
पानी भरा है परन्तु योजना नही बनी

शासन-प्रशासन के द्वारा कई योजनाऐ चलाई जा रही है। परंतु विभाग किसान हित की नीति समय पर नही बना पा रहे है। पास मे ही पानी भरा हुआ है। खेत की सिंचाई के लिए पाईप योजना बना कर आर्थिक नुकसान उठा रहे है। नहर निकल जाये तो खर्चा व समय दोनो बचेगा। सभी जनप्रतिनिधि व जननेता को किसान हित की योजना पर ध्यान देना चाहिए।
सिंचाई के लिए हिंगोरिया बड़ा, रातीतलाई, बरखेड़ा डांगी, कालिया खेड़ी, देवा खेड़ा, बोरखेडी चारण, हाथी बोलियां, सुथार खेड़ा, रतन पिपलिया, मगराना, जोधा पिपलिया, नापाखेड़ा, खात्याखेड़ी, रायसिंहपिपलिया, आक्याबिका, गरनई सहित अनेक कई गांव के किसानों को सिंचाई का लाभ मिलेगा।

जनप्रतिनिधि को कई बार आवेदन दिया
जिले के जनप्रतिनिधि सांसद सुधीर गुप्ता, क्षेत्रीय विधायक जगदीश देवड़ा सहित अनेक जननेताओं को किसानों की अपनी समस्या समझना चाहिए। जल है तो जीवन है तथा जल है तो खेती है जनप्रतिनिधियों, शासन-प्रशासन व विभाग को इस विषय पर जागरूकता से किसान हित मे ध्यान देना चाहिए।

तुलसीराम राठौर सामाजिक कार्यकर्ता ने बताया कि अन्नदाता किसान हित मे विभाग को नहर योजना बना कर मंजूरी कराना चाहिए। सभी जनप्रतिनिधि व जननेता योजना को प्राथमिकता मे लेकर समाधान करने का प्रयास करे। मांगने से मिलता है।

About The Author

I am Brajesh Arya

Related posts