Breaking News

सकल ब्राह्मण समाज करेगा फिल्म आर्टिकल 15 का विरोध, मंदसौर सिनेमाघरों में रिलीज नहीं होने दी जाएगी फिल्म

मंदसौर। आर्टिकल 15 रिलीज से पहले ही विवादों में घिरती नजर आ रही है। मंदसौर सकल ब्राह्मण समाज द्वारा अनुभव सिन्हा की फिल्म आर्टिकल 15 का विरोध पूरे ताकत से करने की तैयारी कर ली गई है और फिल्म को लेकर ब्राह्मण समाज मे काफी आक्रोश नजर आ रहा है । ब्राह्मण समाज के भरत जोशी पिपलियामंडी और चेतन जोशी ने कहा की अगर फिल्म बदायूं की घटना पर आधारित है तो आरोपी को ब्राह्मण में बदलने की क्या जरूरत थी। जाहिर है कि इसका उद्देश्य ब्राह्मण समुदाय को बदनाम करना है। फिल्म की कहानी 2014 में दो बहनों के रेप और हत्या पर आधारित है। बदायूं के कटरा सआदतगंज गाँव में दो दलित लडकियों से गैंग रेप कर पेड़ से लटका दिया गया था। जबकि दिसम्बर 2014 में सीबीआई ने इस केस को सुसाईड केस बताकर बन्द कर दिया था। बदायूं केस में मुख्य आरोपियों के नाम पप्पू यादव, अवदेश यादव व उर्वेश यादव थे, जबकि इनके साथ दो पुलिस वाले छत्रपाल यादव और सर्वेश यादव भी आरोपी थे। किंतु फिल्मकार द्वारा ब्राह्मण समाज के नाम देकर ब्राह्मण समाज को बदनाम करने का कार्य किया जा रहा है, जो कि ब्राह्मण समाज द्वारा कभी सहन नही करेगा। सकल ब्राह्मण समाज के दिलीप शर्मा, हेमंत शर्मा, राजेश पाठक, राहुल शर्मा आदि ने फिल्म को मंदसौर में नही चलने देने का निर्णय लिया है और प्रदेश के राज्यपाल व मुख्यमंत्री के नाम इस फिल्म को मध्यप्रदेश में बेन करने हेतु पत्र लिखकर निवेदन किया है।

About The Author

I am Brajesh Arya

Related posts