Breaking News

सद्भाव से रोशन हो मंदसौर का प्रत्येक घर : मिल जुलकर एक परिवार के रूप में मनायें दीपावली – सोमिल नाहटा

मन्दसौर। भारत देश का सबसे महत्वपूर्ण त्यौहार दिपावली माना जाता है। जिसे खुशियों का त्यौहार कहते है लेकिन इस त्यौहार पर कई परिवार ऐसे होते है जो खुशियों से वंचित रहते है। ऐसे ही परिवार के बीच सद्भाव सामाजिक संस्था द्वारा 18 अक्टूबर को दीपावली मनाई जायेगी।

संस्था के सोमिल नाहटा ने जानकारी देते हुए बताया कि वसुधैव कुटुंबकम की शुरुआत हम अपने शहर से कर सकते हैं, हमारा शहर एक परिवार है और दीपावली जैसा त्यौहार जब सामूहिक रूप से पूरा शहर मनाएगा तो त्यौहार की खुशियां कई गुना बढ़ जाएंगी। शहर का कोई भी कोना इन खुशियों से नहीं छूटे, शुभकामनाओं की रोशनी घर-घर तक पहुंचे, इस उद्देश्य से सद्भाव सामाजिक संस्था द्वारा प दीपावली, पर एक अभिनव आयोजन करने जा रही है जिसके अंतर्गत संस्था मंदसौर शहर में घरों में बनने वाली मिठाई और अन्य मिष्ठान गिफ्ट पैक के रूप एकत्र कर रही है जिन्हें जरूरतमंद घरों तक पहुंचाया जाएंगा। श्री नाहटा ने कहा किक हम सब एक परिवार के रूप में त्यौहार की खुशियों का आनंद लें, इस हेतु हमारा शहर हमारा परिवार है, हम सब अपने-अपने घरों में और परिचितों में त्योहार की खुशियों का आनंद लेते हैं लेकिन अनजान घरों तक वह खुशियां पहुंचा कर हम खुशियों को दोगुना कर सकते हैं। इसी संकल्प के साथ सद्भाव संस्था यह आयोजन करने जा रही है।

घर-घर से जुटाए जाएंगे पैकेट।
सद्भाव संस्था द्वारा घरों में गिफ्ट पैकेट का वितरण किया जायेगा। घरों से मिष्ठान और खाद्य पदार्थ लेकर पुनः शहर के घरों में ही वितरित किया जाएगा। भोजन के प्रत्येक पैकेट पर एक मोबाइल नंबर होगा यह उसी व्यक्ति का होगा जिसके घर से पैकेट लिया गया है जिस घर में पैकेट जाएगा वह प्रथम व्यक्ति को फोन कर जब दीपावली की शुभकामनाएं देगा तो दोनों परिवारों का आनंद दुगना अपने आप बढ़कर महसूस होगा। श्री नाहटा ने बताया कि हमारा उद्देश्य है कि इस बार त्योहार की खुशियां शहर के हर कोने तक पहुंचे और सबके चेहरों पर सद्भावना की मुस्कान लाई जा सके। सद्भाव संस्था ने आग्रह किया है कि शहर के प्रत्येक घर इस अभियान में भागीदारी करें।

About The Author

I am Brajesh Arya

Related posts