Breaking News

सरताज सिंह: भाजपा ने टिकट काटा तो कांग्रेस ने दे दिया, चुनाव लड़ेंगे

भोपाल। एक जमाने में भारतीय जनता पार्टी के अभिमान का प्रतीक रहे वरिष्ठ नेता सरताज सिंह को शिवराज सिंह सरकार ने पहले फार्मूला 75 के नाम पर मंत्रीमंडल से बाहर किया और फिर चुनाव 2018 में उनका टिकट भी काट दिया। भाजपा की लिस्ट जारी होते ही सरताज सिंह की आखों से आंसू निकल आए। इधर कांग्रेस ने तत्काल अपना हाथ बढ़ा दिया। अब सरताज सिंह कांग्रेस प्रत्याशी के रूप में होशंगाबाद सीट से चुनाव लड़ेंगे।

बीजेपी की आज जारी सूची में भी अपना नाम ना देखकर विधायक सरताज सिंह की आंखें छलछला उठीं थीं। सरताज सिंह सिवनी मालवा से टिकट के फिर दावेदार थे लेकिन पार्टी ने उम्र के पैमाने के कारण उन्हें टिकट नहीं दिया। उनका मंत्री पद भी इसी वजह से गया था। टिकट की आशा में उन्होंने आज होशंगाबाद में एसबीआई में खाता भी खुलवा लिया था और कांग्रेस के राजेन्द्र ने उनके नाम से नामांकन पत्र भी ले लिया है। नामांकन पत्र दाख़िल करने की 9 नवंबर को आख़िरी तारीख़ है।

सुबह ख़बर आयी थी कि बीजेपी के असंतुष्ट वेटरन लीडर सरताज सिंह कांग्रेस में जाने की तैयारी में हैं। कांग्रेस के स्टेट मीडिया पैनलिस्ट राजेन्द्र ठाकुर ने जब होशंगाबाद आरओ कार्यालय से सरताज के लिए कांग्रेस प्रत्याशी के तौर पर नामांकन पत्र लिया, तो इन ख़बरों को बल मिला। उससे पहले सरताज सिंह ने एसबीआई की मीनाक्षी शाखा में अपना खाता खुलवाया।

सरताज सिंह ने कहा था कि कांग्रेस ने इटारसी और होशंगाबाद से टिकट का ऑफर दिया है हालांकि सुबह सरताज सिंह ने साफ कहा था कि वो चुनाव तो लड़ेंगे लेकिन सिवनी मालवा से अब खड़े नहीं होंगे। आख़िरी फैसला कार्यकर्ताओं से चर्चा के बाद ही किया जाएगा। बीजेपी के इस वरिष्ठ नेता ने पार्टी के रुख़ पर निराशा जतायी और याद दिलाया कि हमने मुश्किल सीट पर पार्टी को जीत दिलाई थी।

About The Author

I am Brajesh Arya

Related posts