Breaking News

सर्द हवाओं ने बढ़ाई सर्दी – ठंडा हुआ मंदसौर

मंदसौर। लगातार तापमान में गिरावट व मावठ गिराने के चलते शनिवार को लोग ठंडा से बचाव करते हुए गर्म कपड़े पहनते हुए नजर आए। युवराज नागर ने बताया कि सुबह के समय कोहरा होने से वाहन चालकों को परेशानी का सामना करना पड़ा। ठंड अधिक होने से किसान अलाव लगाकर तापते हुए नजर आए। तापमान में गिरावट होने के चलते कस्बे में लोग गर्म कपड़ों में नजर आए। अलाव तापते रहे। इस दौरान शुक्रवार को भी दिनभर गलन व सर्द हवाओं का दौर बरकरार रहा।

उत्तर भारत में हुई बर्फबारी का असर मंदसौर सहित पूरे अंचल में हो रहा है। शुक्रवार सुबह से चली सर्द हवाओं ने दिन के तापमान को दो डिग्री और रात के तापमान को एक डिग्री गिरा दिया है। शुक्रवार को सुबह-शाम ठंड का ज्यादा असर रहा। पहली बार इस मौसम में न्यूनतम तापमान 10 डिग्री सेल्सियस हुआ है वहीं अधिकतम 22 डिग्री दर्ज किया गया।

शुक्रवार सुबह से ही सर्द हवाओं का असर बढ़ने से सर्दी ने भी अपना असर दिखाना शुरू कर दिया है। दिसंबर जैसे जैसे बीत रहा है वैसे ठंड भी बढ़ने लगी है। दिन भर अधिकांश लोग गर्म कपड़ों में लिपटे रहे। सुबह व रात में अलाव भी जले है। मौसम विशेषज्ञों ने बताया कि अगले तीन-चार दिनों में सर्दी और बढ़ेगी। शुक्रवार को अधिकतम तापमान 22 डिग्री और न्यूनतम 10 डिग्री रहा। ठंड के असर से लोग बीमार भी हो रहे हैं। खासकर बच्चों और वृद्घों पर सर्दी का असर ज्यादा दिख रहा है। डॉ. वीएस मिश्र ने बताया कि सर्दी से बच्चों और बुजुर्गों के साथ ही ब्लड प्रेशर व सांस के रोगियों को भी बचाव करना जरुरी है। इनके लिए जरा सी लापरवाही स्वास्थ्य पर भारी पड़ सकती है।

कश्मीर में हो रही बर्फबारी का असर बीते दो दिन में पूरे प्रदेश पर दिखने लगा है। सभी जिलों में तापमान में गिरावट दर्ज की गई है। दीपावली की रात से सर्दी का अहसास होने लगा है। कश्मीर में बर्फबारी हो रही है। इस कारण घाटी की ओर से आने वाली हवाओं के असर के कारण उत्तरी हवाओं ने मौसम में घोली हल्की ठंडक, पारा गिरा; अगले हफ्ते तक तापमान और कम होगा रात में कंपकंपा देने वाली सर्दी शुरू हो गई है।

 

अच्छी लगने लगी धूप :

ऐसे में दिन में अब लोगों को धूप अच्छी लगने लगी है. खासकर सुबह और शाम के वक्त लोग धूप का आनंद लेते नजर आए. पूर्व वरिष्ठ मौसम वैज्ञानिक एसके नायक ने बताया कि हवा का रुख उत्तरी है. जम्मू कश्मीर में हल्की बर्फबारी हुई है. इस कारण मौसम में ठंडक बढ़ी है. वेस्टर्न डिस्टरबेंस जम्मू में है. अब यह हिमालय की तराई की ओर आगे बढ़ेगा. इस दौरान हवा का रुख उत्तरी रहा तो एक-दो दिन बाद ठंडक में और इजाफा होने के आसार हैं. मौसम वैज्ञानिकाें की मानें तो एक-दो दिन बाद न्यूनतम तापमान में और गिरावट आएगी.

 

 

 

तापमान गिरते ही स्वाइन फ्लू का बढ़ा खतरा

तापमान में गिरावट आने के साथ डेंगू, मलेरिया, चिकनगुनिया के बाद स्वाइन फ्लू की बीमारी बढ़ने का खतरा मंडराने लगा है. दिन का तापमान जब 25 डिग्री सेल्सियस से कम और न्यूनतम तापमान 12 डिग्री सेल्सियस से कम रहता है तो इस तापमान में स्वाइन फ्लू का वायरस सक्रिय हो जाता है. इसलिए डॉक्टरों ने सर्दी के इस मौसम में विशेष सावधानी बरतने की सलाह दी है.

 

बच्चों को गर्म कपड़े पहनाएं, सर्दी से रखें बचाव

– तापमान गिरने से सर्दी, खांसी, जुकाम, निमोनिया व अस्थमा के मरीज बढ़ेंगे. बच्चों को गर्म कपड़े पहनाएं और सर्दी से बचाव रखें.

– तापमान में गिरावट आने से हार्ट और ब्रेन अटैक की संभावना बढ़ जाती है. फिब्रीनोजन नामक पदार्थ शरीर में सर्दी के मौसम में बढ़ जाता है जो क्लोटिंग बढ़ाता है. इससे खून गाढ़ा हो जाता है और खून का थक्का जमने की संभावना बढ़ जाती है. इसलिए सर्दी से बचाव रखें, नियमित दवा लें और सिर ढंक कर रखे.

अभी तापमान फसलों के लिए ठीक

कृषि विशेषज्ञ कह रहे हैं अभी का तापमान रबी की फसलों के लिए ठीक हैं। इससे ज्यादा तापमान घटने से भी फसलों में पाला पड़ने का डर बना रहता है। जिले में इस बार 2 लाख 5 हजार हेक्टेयर में रबी फसलों की बुवाई की गई है। इसमें गेहूं 95 हजार व चने की 55 हजार हेक्टेयर में बुवाई की गई है।

इस तरह तापमान में आ रही गिरावट(डिग्री सेल्सियस में)

दिन-अधिकतम-न्यूनतम

7 दिसंबर 27.0 14.2

8 दिसंबर 27.0 13.8

9 दिसंबर 27.0 13.0

10 दिसंबर 27.0 13.0

11 दिसंबर 26.0 12.0

12 दिसंबर 25.0 12.0

13 दिसंबर 24.0 11.0

14 दिसंबर 22.0 10.0

About The Author

I am Brajesh Arya

Related posts