Breaking News

सर्वपितृ अमावस्या पर शिवना तट पर किया जायेगा पितृ देवताओं का तर्पण

मन्दसौर। सर्वपितृ अमावस्या आज दिनांक 19 सितम्बर, मगलवार को प्रातः 11.52 से आरम्भ होगी। सर्वपितृ अमावस्या के दिन ज्ञात, अज्ञात पितृों की शांति के लिये श्राद्ध कर्म किया जाता है। पवित्र नगरी मंदसौर का तीर्थ स्थल भूतभावन भगवान श्री पशुपतिनाथ मंदिर के समीप शिवना नदी के तट पर प्रतिवर्षानुसार पितृों की शांति के लिये नांदी श्राद्ध, पिंड पूजन, तर्पण व हवन आदि क्रियाएं पण्डित राकेश भट्ट द्वारा सम्पन्न करवाई जायेगी।  हमारे पूर्वज जिस तिथि में इस संसार से विदा हुए। श्राद्ध पक्ष में उसी तिथि को किया जाने वाला श्राद्ध सर्वश्रेष्ठ होता है। जिनकी मृत्यु की तिथि ज्ञात न हो उनके श्राद्ध के लिये अमावस्या की तिथि उपर्युक्त मानी जाती है। सर्वपितृ अमावस्या पर हमारे द्वारा दी गई जलांजली से सीधा जल पितृों को अर्पित होता है। जिससे हमारे पितृ देवता प्रसन्न होकर हमें तथा हमारे परिवार को आशीर्वाद प्रदान करते है। इस दिन तर्पण करने से हमें पितृ दोष से मुक्ति मिलती है। अकाल मृत्यु को प्राप्त पितृों का श्राद्ध व जिन पितृों की मृत्यु तिथि ज्ञात न हो उनका श्राद्ध इस तिथि में करने से वे प्रसन्न होते है।  विश्वमोहन अग्रवाल मित्र मण्डल द्वारा शिवना नदी के तट पर पिछले 10 वर्षों से 16 दिवसीय श्राद्ध, पितृ कर्म व तर्पण पं. राकेश भट्ट द्वारा किया जा रहा है। तर्पण का यह 11वां वर्ष है।  उक्त जानकारी देते हुए पं. राकेश भट्ट ने बताया कि आज 19 सितम्बर को शिवना नदी के तट पर श्राद्ध कर्म किया जाएगा। जिन महानुभावों को श्राद्ध कर्म करना है वह शिवना नदी के तट पर प्रातः 11.30 बजे पंडित राकेश भट्ट से सम्पर्क कर सकते है या उनके मो.नं. 9893507166 से जानकारी प्राप्त कर सकते है।

About The Author

I am Brajesh Arya

Related posts