Breaking News

सहायक सचिवों के धरने को जिला पंचायत सदस्य का समर्थन

Hello MDS Android App

पंचायतों में भ्रमण व जनसंपर्क के दौरान देखा सबसे अधिक कार्य करते है सहायक सचिव

मन्दसौर। मेरा कार्यकाल लगभग 4 वर्षों का हो गया है, इस कार्यकाल में मेने बहुत सारे अनुभव किये है, जिले की बहुत सी ग्राम पंचायतों में भ्रमण किया है, ओर वहा जनसंपर्क के दौरान प्रत्यक्ष अनुभव किया कि ग्राम पंचायतों में सहायक सचिव बहुत कार्य करते है, अल्प मानदेय में शासन की महत्वपूर्ण योजनाओ को धरातल पर ग्रामीण जनता तक पहुचाते है, या बहुत ही परोपकार का कार्य करते है, मनरेगा, स्वच्छ भारत मिशन ओर वर्तमान में सहायक सचिवों ने प्रधानमंत्री आवास योजना को ऊचाइयों तक पहुचने में महत्वपूर्ण योगदान दिया है, शासन को इनकी मांग पर शीघ्रातिशीघ्र ध्यान देकर मांगो का निराकरण करना चाहिए।

 

यह बात आज सहायक सचिवों के धरने को सम्बोधित करते हुए जिला पंचायत सदस्य श्री रमेश गुर्जर ने कही। उन्होंने कहा इसमे कोई संदेह नही की पंचायतों में नियुक्त सभी सहायक सचिव युवा है, ओर पंचायतों में 24 घण्टे काम करने का बोझ इन लोगो पर है, इनकी नियुक्ति के बाद निश्चित ही ग्राम पंचायतों के कार्यों में गति आई है, में माननीय मुख्यमंत्री जी से निवेदन करूँगा की इन लोगो को नियमित करें।

 

इससे पूर्व जनपद के संगठन ने सहायक सचिवो के धरने के समर्थन किया, ओर कहा कि सहायक सचिवों की हड़ताल से जनपद ओर ग्राम पंचायतों के बहुत से कार्य प्रभावित हो रहे है, साथ ही कवि लालबहादुर श्रीवास्तव ने कविता के माध्यम से सहायक सचिवों के कार्यों की सराहना की, ओर बताया कि अल्प मानदेय में इतना कार्य करना सम्भव नही हो सकता है।

 

इस आशय की जानकारी देते हुए मध्यप्रदेश पंचायत सहायक सचिव संगठन के जिलाध्यक्ष सुरेशसिंह परमार ने बताया कि सरकार सहायक सचिवो को कमजोर समझ राही है, लेकिन हम झुकने वाले नही है, हमारा धरना तब तक जारी रहेगी, जब तक हमारी नियमितीकरण की मांग का निराकरण नही हो जाता।

About The Author

I am Brajesh Arya

Related posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *