Breaking News

सावन का दूसरा सोमवार – भगवान पशुपतिनाथ मंदिर में उमडे श्रद्धालु,कई कावड यात्री आये बाबा के दरबार में

मंदसौर निप्र। 17 जुलाई सावन के दूसरे सोमवार को नगर के प्रसिद्ध भूतभावन भगवान आशुतोष के दरबार मेें दर्शनार्थियों का सुबह से ही तांता लगना प्रारंभ हो गया था। सुबह 7 बजे पहला अभिषेक किया गया।
सुबह से बड़ी संख्या में भोले के दर्शन वंदन करने के लिये भक्तों की कतारें लगना प्रारंभ हो गई थी। जो रात्रि तक जारी रही। सोमवार को पिपल्यामंडी से कावड़ यात्रा भी बाबा के दरबार में पहुॅची जहाॅ सैकडो कावडियों ने भगवान पशुपतिनाथ का अभिषेक किया। कावड यात्रियों को नगर में विभिन्न स्थानों पर स्वागत किया गया।
जागेश्वर मंदिर में चल रहा सोलहवां श्रावण महोत्सव

शहर नीम चैक स्थित अति प्राचीन एवं चमत्कारी शिवालय जागेश्वर महादेव मंदिर में 16वां श्रावण महोत्सव चल रहा है। प्रातःकाल से ही शिवलिंग को दूध, दही, ध्रत, जलाभिषेक करने वाले भक्तों का तांता लगा हुआ है। भक्तजन शिव की पूजन अर्चन व आराधना कर अपने और परिवार के सुख-समृद्धि की कामना करते है।
प्रचार प्रसार प्रमुख भेरूलाल कनेरिया ने बताया कि सच्ची श्रद्धा से की गई भक्ति कभी नि ष्फल नहीं है। शिव से मांगा हुआ आशीष हर भक्त को मिलता है और जागेश्वर महादेव, शरण में आये भक्तों की हर मनोकामना पूर्ण करते है।
पूरे श्रावण मास में प्रसिद्ध आचार्य जगदीश लाड़ के सानिध्य में पांच विद्वान पंडितों खगेश लाड़, मनीष त्रिपाठी, मनोज पंडित, दीपेश आचार्य द्वारा वैदिक मंत्रोच्चार से अभिषेक व पूजन अर्चन किया जा रहा है। प्रति सोमवार व प्रदोष को महारूद्राभिषेक व पंडित भगवतीगिरी द्वारा शिवलिंग का विशेष श्रृंगार किया जाता है। रात्रि 8 बजे शहर प्रतिष्ठित बन्धुओं के मुख्य आतिथ्य में महाआरती की जा रही है। प्रत्येक सोमवार व प्रदोष को रात्री 9 बजे से नगर के मुख्य कलाकारों द्वारा शास्त्रीय एवं सुगम संगीत कार्यक्रम की प्रस्तुति दी जा रही है।

मनोकामना अभिशेक में लगा अभिशेकार्थियों का तांता 1500 भक्तों ने किया अभिशेक
मनोकामना अभिशेक के 7 वें दिवस भगवान पषुपतिनाथ की रजत प्रतिमा का पूजन-अर्चन पूर्व केबिनेट मंत्री नरेंद्र नाहटा, पार्शद रूपल-अषांषु संचेती, भारत विकास परिशद् अध्यक्ष घनष्याम पोरवाल, भिलाई (छ.ग.) से केदार चैधरी, विजय कुमार दुबे चित्रकूट, प्रतापंिसंह, वीरेन्द्रसिंह भैंसोदा, षिल्पा चैहान रतलाम, षांतिलाल सोनी आंत्री माता, भुवानसिंह तोलखेड़ी, कारूलाल घोबी प्रतापगढ़, मनोज कुमार गुप्ता, रामगोपाल घाटिया, विनोद कुमार जोषी, रमेष सोनी, बलवंतसिंह डोराना, चंद्रभानसिंह चुण्डावत, सुरेन्द्र बसेर, रामेष्वर पाटीदार, घनष्याम पंवार, लेखराज भक्तानी, राजाराम तंवर आदि ने वेद मंत्रों के साथ किया। नारी सषक्तिकरण अभियान वर्श में षांतिकुंज-हरिद्वार से प्रषिक्षित गायत्री परिवार की बहिनों द्वारा मधुर सस्वर बैदिक मंत्रों के साथ लगातार 2 घंटे तक संपन्न कराया जा रहा अभिशेक 21 वीं सदी नारी सदी होने का उद्घोश कर रहा है।

About The Author

I am Brajesh Arya

Related posts