Breaking News

सिविल हॉस्पिटल की बड़ी लापरवाही : एक्सपायरी दवा देने से बच्चे की हालत बिगड़ी

गरोठ। हमेशा सुर्खियों एवं विवादों में रहने वाला नगर का सिविल हॉस्पिटल एक बार फिर भी लापरवाही के कारण एक मासूम की जान पर बन आई। प्राप्त जानकारी के अनुसार 9 अगस्त 18 को ओपीडी में कार्तिक पिता पवन गुर्जर उम्र 3 वर्ष को इलाज के लिए लाया गया था। जहा। डॉक्टर परिहार द्वारा बच्चे को परिक्षण कर दवाईयां लिखी गई। डॉक्टर द्वारा लिखी गई दवा लेने के लिए जब मासूम के पिता खिड़की पर गए तो वहां से उन्हें माह जुलाई में ही एक्सपायरी हो चुकी दवा दे दी गई। दवा लेकर बच्चे के परिजन के घर चले गये व घर जाकर बच्चे को अस्पताज से दी गई दवा पिला दी गई। दवा पिते ही मासूम को उल्टी, दस्त शुरू हो गए। जिससे मासूम रातभर परेशान होता रहा।

 

अस्पताल की लापरवाही को लेकर मासूम के पिता पवन गुर्जर ने दोषियों के विरूद्ध कड़ी कार्यवाही करने का आवेदन मेडिकल ऑफिसर को दिया है।

 

नोटिस देगे
एक्सपायरी दवा देने का मामला में संज्ञान में आया है और ओपीडी इंचार्ज को इसके लिए नोटिस दिया जाएगा। सिस्टम बना हुआ है फिर भी गलती हुई है इसकी जांच कि जाएगी, आगे से ऐसा न हो इसका ध्यान रखा जाएगा। – डॉ परिहार, मेडिकल अधिकारी, गरोठ

About The Author

I am Brajesh Arya

Related posts