Breaking News

सुनील बंसल के समर्थन में राष्ट्रीय अध्यक्ष हीरालाल त्रिवेदी ने किया जनसम्पर्क

समाज की एकता व समरसता में जहर घोलने का कार्य कर रही है भाजपा-कांग्रेस -श्री त्रिवेदी

मन्दसौर। सपाक्स पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष श्री हीरालाल त्रिवेदी ने मंदसौर में सपाक्स के उम्मीदवार सेवाभावी सुनील बंसल के समर्थन में प्रभावी जनसम्पर्क किया। दोपहर में गांधी चौराहा स्थित सपाक्स कार्यालय से समर्थकों के साथ जनसम्पर्क रैली निकली। जिसमें समर्थक अपने हाथों में एट्रोसिटी एक्ट के विरोध में एवं नगर एवं गांवों के विकास के नारे लिखे हुए बैनर हाथों में लेकर चल रहे थे। राष्ट्रीय अध्यक्ष श्री त्रिवेदी ने रास्ते में सभी से सपाक्स प्रत्याशी सुनील बंसल को समर्थन देने का आव्हान किया।
यह रैली गांधी चौराहा से युवराज क्लब, बस स्टैंड बालाजी, भारत माता चौराहा, घण्टाघर, कालाखेत, दयामंदिर रोड़, गांधी चोराहा, नगरपालिका रोड़ पर नुक्कड़ सभा का आयोजन हुआ। जिसको संबोधित करते हुए सपाक्स राष्ट्रीय अध्यक्ष श्री त्रिवेदी ने कहा कि सपाक्स का उद्देश्य भारत की 78 प्रतिशत एवं मध्यप्रदेश की 64 प्रतिशत जनता के साथ सीधा अन्याय के विरूद्ध आवाज उठाना है। आपने कहा कि जब एट्रोसिटी एक्ट आया था तब उसके उद्देश्य अच्छे थे। ये ऐसा कानून था तो समानता के आधार पर लाया गया था परन्तु सरकार ने इसमें भी अमेडमेंट कर दिया और सन् 2016 में सभी सामान्य व पिछड़ा वर्ग पर लाद दिया गया। छोटी-मोटी कहासुनी एवं विवाद के मामलों में सामान्य वर्ग को अंदर डालने की नीति बनाई गई और इसमंे जमानत का कोई प्रावधान नहीं रखा गया। लेकिन सुप्रीम कोर्ट ने मार्च 2018 में यह निर्णय दिया कि ऐसे मामलों में गिरतार करने के पहले जांच करनी चाहिए। क्योंकि यदि पहले अरेस्ट कर दे तो जांच का मतलब ही खत्म हो जाएगा।  ऐसे छोटे-मोटे मामलों में दोनों पक्ष का मत बना रहे। सामान्य के साथ अन्याय न हो। लेकिन केन्द्र सरकार उसमें अध्यादेश लाने का निर्णय लिया। कोई भी भाजपा व कांग्रेस का सांसद लोकसभा व राज्यसभा में इसके विरूद्ध नहीं बोला। याने वहां कोई माई का लाल नहीं था जो इस काले कानून के खिलाफ बोल सके। तभी सपाक्स पार्टी बनाने का निर्णय लिया गया कि माई के लाल चुनकर लोकसभा एवं विधानसभा में जाये और वहां अन्याय के विरूद्ध आवाज उठाये।
श्री त्रिवेदी ने कहा कि ये राजनैतिक पार्टीयां समाज की एकता, समरसता में जहर घोलने का कार्य कर रही है। आपने कहा कि राजनीति के किचड़ को साफ करने के लिये गंदगी में उतरना जरूरी था इसलिये सपाक्स का निर्माण हुआ। भाजपा का कार्य जाति व धर्म के नाम पर लोगों को बांटने वाला है। आपने कहा कि अभी भी वोट के रूप में अपनी ताकत नहीं दिखाई तो जल्द ही प्रायवेट संस्थाओं में भी आरक्षण लाने की बिल पास कर दिया जाएगा और अगर कुछ उसके खिलाफ बोले तो आप पर एट्रोसिटी एक्ट लगा दिया जाएगा। आपने कहा कि सुनील बंसल सामाजिक भावना के प्रतीक है। भाजपा व कांग्रेस को आपने वोट दिया तो आप पर फिर चोट करेंगे। या तो अपने मान-सम्मान का ताक पर रखकर गुलामों की तरह जियो या सपाक्स को वोट देकर अपनी ताकत प्रदर्शित करो। कितने माई के लाल है वो वोटों की संख्या से गिना जायेगा। कोई चुक न हो। अभी नहीं तो कभी नहीं।
सपाक्स उम्मीदवार सुनील बंसल ने कहा कि मंदसौर के अंदर मेडिकल कॉलेज पिछले 50 वर्षों से मांग जनता कर रही है। 1 लाख 11 हजार पोस्टकार्ड लिखे गये और 62 दिन का धरना दिया गया लेकिन मेडिकल कॉलेज रतलाम को दे दिया गया। मंदसौर का हास्पिटल मात्र रेफर हास्पिटल है। यहां न तो कोई बड़ा उद्योग ना रोजगार है। यहां के सत्ताधारियों के संरक्षण पर शासकीय भूमि एवं नालो ंपर भूमाफियाओं ने अतिक्रमण कर लिया गया। सबको सपाक्स का समर्थन कर इस लड़ाई को लड़ना होगा। आपने सपाक्स के लिये सभी से आशीर्वाद मांगा।
इस दौरान सपाक्स के भारतसिंह राजाखेड़ी, संतोष त्रिवेदी, हरिशंकर शर्मा भी मंचासीन थे। इस अवसर पर बड़ी संख्या में सपाक्स कार्यकर्ता, महिला सपाक्स कार्यकर्ता, अल्पसंख्यक वर्ग के कार्यकर्ता एवं गणमान्य नागरिक उपस्थित थे। सभा का संचालन एम.पी.सिंह परिहार ने किया एवं आभार मधुसुधन भारद्वाज ने माना। उक्त जानकारी सत्येन्द्रसिंह सोम ने दी।

About The Author

I am Brajesh Arya

Related posts