Breaking News

सूरज की तपन ने बाजार किये सूनसान, प्रतिदिन चढ़ रहा है पारा

Story Highlights

  • मंदिरों में भी भगवान को गर्मी से बचाने के लिये भक्तों ने किये जतन

मंदसौर निप्र। अप्रैल माह के अंत में गर्मी अपने पूरे तेवर दिखा रही है। जिससे दिन में लोगों का घर से बाहर निकलना दूभर हो रहा है। हालत यह है कि दोपहर में 1 बजे से शाम 4 तब शहर के प्रमुख बाजार पूरी सूने हो जाते है।
चिलचिलाती धूप ने षहर के बाषिंदों को परेषान कर दिया तो वहीं फिजा में घुली लू की लपटों ने भी लोगों को हलकान कर रखा है। बैठे-बैठे पसीने छूटने वाली गर्मी का मौसम चल रहा है। हर साल मई में पड़ने वाली गर्मी इस वर्ष अप्रैल के अंतिम दिनों में और अधिक हो गई है। तापमापी के पारे पर अगर गौर करें तो वह भी 40 डिग्री के पार जा पहुंचा है। सूर्योदय के बाद से ही षुरू होने वाली गर्मी सूर्यास्त तक लोगों का पीछा नहीं छोड़ रही है। सुबह से षाम तक धुप की चूभन और लू ने षहर को अपनी चपेट में ले रखा है, तो वहीं रात को भी गर्मी का असर कम नहीं हो रहा है।

सूती वस्त्र व चश्मे का सहारा
लोग गर्मी से बचाव के लिए सूती वस्त्र, आंखों पर रंगीन चष्मा चढ़ाकर घर से निकल रहे हैं, लेकिन सारी कोषिषे तपा देने वाली गर्मी में बेनतीजा साबित हो रही है। इधर, भयंकर गर्मी से लोगों के स्वास्थ्य पर भी बूरा असर पड़ रहा है। षहर के निजी एवं षासकीय अस्पतालों में गर्मी जनित बीमारियों से ग्रसित लोगों की संख्या दिन-ब-दिन बढ़ती जा रही है।

ठण्डे पेय पदार्थो की बढ़ी मांग
गर्मी के तिखे तेवर के चलते ठण्डे पेय पदार्थाे की मांग भी बढ़ने लगी है। नगर में शिकंजी,आईस क्रीम,कुल्फी की कई दुकानें सज गई है। जिन पर ग्राहकों की भिड़ भी देखी जा रही है। वहीं अनेक स्थनों पर समाजसेवी लोगों व संस्थाओं द्वारा प्याऊ भी लगाये गये है।

भक्तों ने भगवान के लिये लगाये एसी और कूलर
भीषण गर्मी से जहाॅ आम नगारिक परेशान है। वहीं भक्त यह मानकर चल रहे है कि इस गर्मी में भगवान भी परेशान होते है। और इसी बात को ध्यान में रखते हुए नगर के कई मंदिरों के गर्भगृह में भक्तों द्वारा भगवान के लिये एसी और कूलर लगाये गये है। नगर के प्रसिद्ध तैलय वाले बालाजी मंदिर में भक्तों ने एसी लगाकर भगवान को गर्मी से राहत दिलाने का प्रयास किया है।

About The Author

I am Brajesh Arya

Related posts