Breaking News

स्टूडेंट पुलिस कैडेट योजना : स्कूली विद्यार्थियों को सामाजिक दायित्वों के लिए तैयार करना है उद्देश्य

मंदसौर। स्टूडेंट पुलिस कैडेट योजना  केन्द्र सरकार द्वारा प्रायोजित होकर माननीय प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के मार्गदर्षन और केंद्रीय गृहमंत्री राजनाथ सिंह की उपस्थिति में  21 जुलाई 2018 को गुरूग्राम (हरियाणा) में स्टूडेंट पुलिस कैडेट योजना का शुभारंभ किया गया है। केन्द्र सरकार द्वारा प्रायोजित होकर राष्ट्रीय युवा नीति 2014 के अंतर्गत पूरे देष के शासकीय विद्यालयों में अध्ययनरत् विद्यार्थियों के लिए बनाई गई है , राष्ट्रीय कैडेट कोर की सहायक होगी यह योजना। म.प्र. के लगभग 450 स्कूल योजनांतर्गत चुने गये है।योजनांतर्गत जिला मंदसौर के 15 शासकीय स्कूल चयनित किये गए है, बाद में अषासकीय विद्यालय भी जोडे़ जाएगे। जिले में पुलिस विभाग से अति0 पुलिस अधीक्षक सुन्दर सिंह कनेष को इस योजना का नोड़ल अधिकारी एवं अनुविभागीय अधिकारी पुलिस ग्रामीण मंदसौर भारत भूषण चौधरी को सहायक नोडल अधिकारी बनाया गया है। कक्षा 8 वीं एवं 9वीं के विद्यार्थियों को इस योजना में सम्मिलित किया गया। योजना की अवधि 02 साल रहेगी। इनडोर-आउटडोर प्रषिक्षण उपरांत प्रमाणपत्र दिये जायेगे।

पुलिस द्वारा इनडोर एक्टिविटी के अंतर्गत केडेट्स को साफ-सफाई, यातायात नियम, बीमारियों से बचने के लिये उपाय, गुड टच, बेड टच, नषीले पदार्थों से बचाव एवं सामुदायिक पुलिसिंग एवं आउटडोर एक्टिविटीज के अंतर्गत पीटी, परेड, थाना भ्रमण, पुलिस नियंत्रण कक्ष का भ्रमण, एम0पी0ई0बी एवं अन्य कार्यालयों का भ्रमण, वाटर ट्रीटमेंट प्लांट, वाटर पम्पिंग स्टेषन आदि स्थानीय स्थलों का भ्रमण कराकर प्रषिक्षण दिया जावेगा, जिसके लिए प्रत्येक स्कुल में एक पुलिस प्रषिक्षण अधिकारी नियुक्त किया गया है, जो केडेट्स को माह में 01 बार इनडोर एवं 02 बार आउटडोर एक्टिविटी का प्रषिक्षण देंगे।

योजना में चुने गये स्कूलों में गर्ल्स हा0से0 स्कूल एमएलबी मंदसौर, गर्ल्स हा0से0 बालागंज मंदसौर, नूतन हाई स्कूल मंदसौर, हा0से0 स्कुल गुर्जरबर्डिया, हा0से0 स्कूल दलौदा, गर्ल्स हा0से0 पिपलियामण्डी, हा0 से0 स्कूल पिपलियामण्डी, बॉयज हा0से0 स्कूल बूढ़ा, गर्ल्स हा0से0 स्कूल बूढ़ा, हा0से0 स्कूल संजीत, हा0से0 स्कूल हिंगोरिया बड़ा, हा0से0 स्कूल अमलावदा, शासकीय माध्यमिक विद्यालय धारियाखेड़ी, हा0 स्कूल डिकोला एवं हा0 से0 स्कूल भालोट को सम्मिलित किया गया है।

योजना में जिले के पुलिस अधिकारी उनि0 रवि भण्डारी थाना शहर कोतवाली, उनि0 जया भारद्वाज थाना शहर कोतवाली, उनि0 रूपसिंह बेस शहर कोतवाली, उनि0 बलवीर सिंह यादव थाना अफजलपुर, पउनि0 शीला सौलंकी थाना दलोदा, उनि0 मोहनलाल मालवीय थाना पिपलियामंडी, उनि0 मोतीराम चौधरी थाना नारायणगढ, उनि0 संजीव परिहार थाना नाहरगढ, सउनि0 ओ0पी0 राठौर थाना भावगढ़, पउनि0 लक्ष्मी सिसोदिया थाना वाय0डी0 नगर, एस0के0 झांझोट थाना वाय0डी0 नगर, उनि0 सुरेन्द्रसिंह सिसोदिया थाना नई आबादी को पुलिस प्रषिक्षण प्रभारी अधिकारी बनाया गया है।

योजना का उद्देष्य: पुलिस संगठन की सामान्य रूप रेखा, समाज में पुलिस की भूमिका, समाज का पुलिस कार्य में सहयोग/दायित्व एवं अपराधिक न्याय व्यवस्था, विभिन्न सामुदायिक पुलिंसिग योजनायें, नवयुवकों/नई पीढ़ी का दायित्व एवं राष्ट्रीय एकता जागृत करना, समाज के प्रति हमारा दायित्व-कम्यूनिटी कान्सेप्ट स्वछता एंव पर्यावरण, मानव अधिकार एवं दायित्व, बाल अधिकार, व्यक्तित्व विकास- आत्मविष्वास एवं आत्मानुषासन, नषे की लत-इसके दुष्परिणाम, स्वस्थ्य जीवन, भोजन षिष्टाचार, युवाओं में अपराध प्रवृत्ति पर अंकुष, संविधान मे मूल अधिकार, लिंग संवेदीकरण एवं समाज में महिलाओं/बालिकाओं की स्थिति, सोषल मिडिया का उपयोग एवं सावधानियॉ, पुलिस आधुनिकीकरण, तनाव प्रबंधन, आपदा प्रबंध में भूमिका, यातायात प्रबंधन/संचालन में युवाओं की भूमिका आदि विषयों पर स्थानीय विषेषज्ञों, सेवानिवृत्त अधिकारीयों, पुलिस अधिकारीयों के माध्यम से व्याख्यान, शारीरिक प्रषिक्षण आदि।प्रषिक्षण के माध्यम से बच्चों में उचित मानविय मूल्यों और नीति के विकास, नैतिकता, धैर्य, सहिष्णुता समानुभूति व सहानुभूति, बड़ो का सम्मान, दृष्टिकोण, समूह/टीम भावना, अनुषासन, आत्मसम्मान, युवा पीढ़ी में सिविक सेंस विकसित किया जाएगा।

About The Author

I am Brajesh Arya

Related posts