Breaking News

हाईकोर्ट ने कहा चार सप्ताह में करायें नपाध्यक्ष का चुनाव

मामला नपाध्यक्ष की नियुक्ति का : हाईकोर्ट ने पार्षद कोटवानी की याचिका पर दिया फैसला

मंदसौर। हाई कोर्ट के माननीय न्यायधीश श्री प्रकाश श्रीवास्तव ने पार्षद राम कोटवानी की याचिका पर शुक्रवार को फैसला देते हुए कहा कि नपाध्यक्ष पद का चुनाव चार सप्ताह में करावें।

स्मरण रहें कि 17 जनवरी 19 को नपाध्यक्ष प्रहलाद बंधवार की हत्या के बाद से ही यह पद खाली पड़ा था। इस पद को भरने के लिए भाजपा पार्षद राम कोटवानी ने माननीय न्यायालय में याचिका प्रस्तुत करते हुए कहा था कि अध्यक्ष पद के लिए वर्तमान परिषद के निर्वाचित पार्षदों में से ही किसी का निर्वाचन किया जाना चाहिए या सीधे चुनाव करवाकर रिक्त पड़े अध्यक्ष पद को भरा जावें। लेकिन राज्य शासन ने छः माह पश्चात् नपाध्यक्ष पद पर कांग्रेस पार्षद मो हनीफ शेख को नियुक्त किया था। जिन्होेंने 23 जुलाई 19 को कार्यभार भी ग्रहण कर लिया था। उसके बाद 25 जुलाई 19 को माननीय न्यायालय के आदेश के कारण नपा के गलियारों में हलचल पैदा कर दी।

माननीय न्यायलय के फैसले के संबंध में सीएमओ आर पी मिश्रा से मोबाईल से बात करना चाही तो उन्होंने मोबाईल रिसिव ही नहीं किया। वहीं विधि विशेषज्ञों के अनुसार नपाध्यक्ष कि हत्या के बाद 6 माह की अवधि में नये अध्यक्ष का चुनाव करवाया जाना था। जो यह अवधि 16 जुलाई 19 को पूरी होने के बाद भी निर्वाचन प्रक्रिया नहीं अपनाई गई। इसलिए माननीय न्यायालय ने चार सप्ताह में चुनाव कराने का फैसला दिया है।

About The Author

I am Brajesh Arya

Related posts