Breaking News

15 मई को बाफना परिवार के द्वारा शनि जयंति पर महाप्रसादी का होगा आयोजन

मंदसौर। प्रतिवर्षानुसार इस वर्ष भी खानपुरा स्थित शनि मंदिर परिसर में शनि जयंति महोत्सव धूमधाम से मनााया जायेगा। भगवान शनिदेव के उपासक समाजसेवी श्री कोमल बाफना परिवार के द्वारा दिनांक 15 मई मंगलवार को शनि जयंती के उपलक्ष्य में महाप्रसादी का आयोजन किया जायेगा। प्रातः 10 बजे से रात्रि 10 बजे तक कोमल बाफना परिवार की ओर से शनि मंदिर के समीप खुली भूमि पर बनाये गये विशाल पाण्डाल में महाप्रसादी का आायोजन होगा। इस महाप्रादी में 20 हजार से अधिक घर्मालुजन भगवान शनिदेव के दर्शन की प्रतिमा के दर्शन व तेलाभिषेक के उपरांत महाप्रसादी का लाभ लेगे। इसके पूर्व प्रातः 6 बजे कोमल बाफना परिवार के द्वारा भगवान शनिदेव की प्रतिमा पर तेलाभिषेक किया जायेगा। बाफना परिवार के सभी महाप्रसादी का लाभ लेने की अपील की है।

महाप्रसादी सभी तैयारी पूर्ण- कोमला बाफना परिवार के द्वारा इस आयोजन की सभी तेयारी पूर्णकर ली गयी है। शनि मंदिर के सभी खुली भूमि पर विशाल पाण्डाल बनाया गया है। इस पाण्डाल में महाप्रसादी को तेयार करने का कार्य सोमवार से ही प्रारंभकिया गया। धर्मालुजनो के बैठने के लिये विशाल पाण्डाल लगाया गया ताकि ग्रीष्म ़़ऋतु की तपती धुप में भी धर्मालुजन महाप्रसादी ग्रहण कर सके।

ग्यारवे वर्ष भी हो रहा है आयोजन- समाजसेवी श्री कोमल बाफना ने भगवान श्री शनिदेव की जयंति पर महाप्रसादी का विराट आयोजन करने की शुरूआत 11 वर्ष पूर्व की थी। उनके द्वारा शनि देवी जयंति पर 10 महप्रसादी के अयोजन सफलता पूर्वक किये जा चुके है। भगवान शनि देव के प्रति आस्था के कारण समाजसेवी कोमल बाफना स्वयं अपनी ओर से इस महाप्रसादी का आयोजन करते है। किसीअन्य दानदाता या संगठन से कोई राशि व सामग्री इस महाप्रसादी के लिये नही ली जाती है। इस वर्ष 11 वे वर्ष में यह आयोजन हो रहा है।
मंदिर में हुई आकर्षक साज सज्जा- कोमल बाफना परिवार के द्वारा महाप्रसादी के आयोजन के लिये मंदिर परिसर में भी आकर्षक विधुत साज सज्जा की गयी है। शनि मंदिर समिति ने शनि जयंती के पूर्व शनि देव मंदिर व व्यायाम शाला की रंगाई व पुताई का कार्य भी पूर्ण कराया। इसके कारण पुरी मंदिर और सुदर दिखाई दे रहा है। मंदिर परिसर में ही शनिदेव की जयंती के लिये आयोजित होने वाले यज्ञ व अनुष्ठान के लिये यज्ञ कुण्ड तैयार किये गये है। आज शनिवार की जयंति पर महाप्रसादी समिति के द्वारा विशेष यज्ञ व पूजा अर्चना होगी।

About The Author

I am Brajesh Arya

Related posts