Breaking News

163 समाजों ने मिलकर निकाली विशाल रैली, मुस्लिम समाज ने भी की फांसी की मांग

Hello MDS Android App

मामला मासूम बालिका के अपहरण के बाद दुष्कर्म का

फांसी की मांग को लेकर उठ खड़ा हुआ शहर, विरोध स्वरूप बंद भी रहा बेमिसाल

मंदसौर। शहर की मासूम बालिका के साथ घिनौना कृत्य करने वाले के विरूद्ध गुरूवार को पूरे शहरवासियों ने एक साथ मिलकर एक ही आवाज में फांसी की मांग की। गुरूवार को प्रातः 10 बजे गांधी चौराहे पर माली समाज के साथ अन्य समाजों के लोग इकठ्ठा होना प्रारंभ हो गए थे। गांधी चौरहो से सैकड़ों लोग पैदल जुलुस के रूप में नेहरू बस स्टेण्ड, कालाखेत, नयापुरा रोड़, महाराणा प्रताप बस स्टेण्ड से होते हुए कंट्रोल रूम पर पहुंचे जहां सभी समाजों ने पुलिस अधीक्षक मनोज सिंह को ज्ञापन देकर घिनौने कृत्य के आरोपी को जल्द से जल्द फांसी देने की मांग की।

मन्दसौर पुलिस कंट्रोल रूम से सीधा प्रसारण प्रदर्शन

Posted by Hello Mandsaur.Com on Wednesday, 27 June 2018

उल्लेखनीय हैं कि बुधवार की शाम को एक स्कूल से बालिका का अपहरण कर एक युवक ले गया था। गुरूवार को बालिका गंभीर हालत में लक्ष्मण दरवाजे के पास स्थित नाले से मिली थी। जिसके बाद पुलिस ने गुरूवार देर रात को घटना के आरोपी इमरान पिता जहीर खां निवासी मदारपुरा को गिरफ्तार किया था। घटना के बाद से शहरवासियों में भारी आक्रोश देखने को मिला।

फांसी दो…फांसी दो से गूंज उठा कंट्रोल रूम
सैकड़ों की संख्या में आक्रोशित जन सैलाब कंट्रोल रूम पर पहुंचा तो आरोपी को फांसी दो…फांसी दो … की गंूज से पूरा कंट्रोल रूम गूंज उठा। आक्रोशित युवा कहते रहे कि आरोपी को हमारे हवाले कर दो। समाज के वरिष्ठों ने पुलिस अधीक्षक मनोजसिंह को ज्ञापन दिया और फांसी की मांग कि इस पर एसपी ने आश्वसत किया कि आरोपी को फांसी ही होगी।

फांसी के लिए जरूरी धाराएॅ लगाई
गिरफ्तार आरोपी इमरान पर पुलिस ने धारा 363, 366, 376 (2) एम, 376एबी, 307 आईपीसी 5एल/6, 5आर/6, 5(एम)/6 पोस्को एक्ट के तहत प्रकरण दर्ज किया है। पुलिस ने बताया कि यह धाराएॅ फांसी के लिए पर्याप्त है।

पॉच दिनों की रिमाण्ड पर आरोपी
आरोपी इमरान को पुलिस ने गुरूवार को न्यायालय में पेश किया। जहॉ से उसे पॉच दिन की रिमाण्ड पर पुलिस को सौंप दिया गया। अब पुलिस अपने तरीके से इमरान से पूछताछ करेगी। पुलिस द्वारा बताया गया है कि मामले में 15 से 20 दिनों मे चालान भी पेश कर दिया जाएगा। प्रकरण की सुनवाई फास्ट ट्रेक कोर्ट में कि जाएगी। अन्य आरोपीयों के बारे में अभी पुलिस ने कोई खुलासा नहीं किया है।

पुलिस बनी हीरो, विधायक सांसद के प्रति दिखा आक्रोश
मामले में पुलिस ने जिस प्रकार तत्परता दिखाई और उसी दिन आरोपी को गिरफ्तार कर लिया। उसके लिए हर कोई पुलिस प्रशासन को धन्यवाद देकर उनकी तारीफ कर रहा है। लेकिन वहीं क्षेत्र के विधायक और सांसद का जुलुस में व ज्ञापन में नही आना और मामले में कोई प्रतिक्रिया नहीं देने से उनके प्रति लोगों में नाराजगी देखने को मिली।

163 समाज व विभिन्न सामाजिक संगठन हुए शामिल
घटना के विरोध में पैदल जुलुस में नगर के 163 समाज के लोगों, सामाजिक संगठनों और कई गणमान्य लोगों ने शामिल होकर घटना की निंदा की।

स्वैच्छिक बंद रहा पूरा मंदसौर
घटना के बाद गुरूवार को पूरा मंदसौर नगर स्वैच्छिक बंद रहा। बंद का किसी संस्था या संगठन ने आव्ह्ान नहीं किया था। लेकिन शहर की बालिका के लिए घटना के विरोध स्वरूप पूरा शहर सुबह से ही बंद था। बंद भी बेमिसाल रहा। सामान्यतः अन्य बंद के दौरान दोपहर को बाजार खुलने लग जाते थे लेकिन गुरूवार को बंद शाम को भी नहीं खुले थे। हालांकि बंद से मेडिकल स्टोर व लोक परिवहन के साधन चल रहे थे। वहीं नगर की सभी शैक्षणिक संस्थाएॅ बंद रही।

मुस्लिम समाज ने भी दिया पुलिस कंट्रोल रूम पहुच कर ज्ञापन

Posted by Hello Mandsaur.Com on Thursday, 28 June 2018

मुस्लिम समाज ने सौपा ज्ञापन
घटना के विरोध स्वरूप मुस्लिम समाज ने भी गुरूवार दोपहर 2 बजे कलेक्ट्रेट पहंुचकर एक ज्ञापन राज्यपाल के नाम तहसीलदार को दिया और आरोपी को जल्द से जल्द फांसी देने की मांग की। इस अवसर बड़ी संख्या में मुस्लिम समाज के लोग एकत्र हुए थे।

वाल्मीकी महासभा ने ज्ञापन सौंपा
नगर की सात वर्षीय मासूम बालिका के साथ दुष्कर्म हुआ है उसकी घोर निंदा करते हुए अखिल भारतीय वाल्मिकी महासभा ने पुलिस अधीक्षक को ज्ञापन सौंपते हुए मांग की कि है कि अपराधी को फांसी की सजा दिलवाये जाने की जी-तोड़ कोशिश करे और फास्ट ट्रेक कोर्ट में मामले की सुनवाई की जाकर पीडि़त बालिका को शीघ्र अतिशिघ्र न्याय दिलवाये जाने का आग्रह किया है।

 

कोई भी अभिभाषक नहीं करेगा पैरवी
घटना से व्यथित होकर जिला अभिभाषक संघ 28/6/2018 को असाधारण सभा आहूत की गई तथा सभी सदस्यगणों ने एक मत से आरोपी की पैरवी नहीं करने तथा पीडिता को न्याय दिलाने का प्रस्ताव सर्वसम्मति से कर अपने न्यायालयीन कार्य से विरत रहने का निर्णय लिया है। असाधारण सभा का संचालन सचिव अजय सिखववाल ने किया तथा अध्यक्षता जयदेवसिंह चौहान अध्यक्ष अभिभाषक संघ द्वारा की गई। असाधारण सभी को अभिभाषक सर्वश्री सुनील रायजादा, राघवेन्द्रसिंह तोमर, एम0के0 कुरेशी, निर्मल जोशी, सलामत कुरेशी, निरजंन रायवाल, ओमप्रकाश श्रीवास्तव एवं मो0 अकबर कुरेशी ने सम्बोधित किया। अन्त में जिला एवं सत्र न्यायाधीष प्रभारी आर0एल0यादव से मौन जुलुस निकालकर प्रकरण को प्रतिदिन चलाकर त्वरित निर्णय कराने की मांग की जिस पर से श्री यादव ने आश्वस्त किया है।

सोशल मीडिया पर गुरूवार को भी खूब दिखा आक्रोश
घटना का गुरूवार को भी सोशल मीडिया पर खूब विरोध देखने को मिला। हर कोई घटना को लेकर आक्रोशित था व सभी ने इसकी निंदा की व आरोपी को जल्द से जल्द फांसी देने की मांग दिनभर सोशल मीडिया पर चलती रही।

जिले के अन्य शहर भी रहे बंद
घटना के विरोध स्वरूप मंदसौर के साथ साथ मल्हारगढ़, नारायणगढ़, पिपलियामंडी, दलौदा में भी पूरी तरह से बंद का माहौल था।

चप्पे चप्पे पर पुलिस
शहर की शांति व्यवस्था नहीं बिगढ़े। इसलिए ऐतिहातन पुलिस प्रशासन पूरी तरह से चौकन्ना दिखा। शहर के चप्पे चप्पे पुलिस बल को तैनात किया गया था। वहीं मंडी गेट, नयापुरा, खानुपरा, बस स्टेण्डों पर भारी पुलिस की तैनाती रही।
आज देगी महिलाएॅ ज्ञापन
आज कहार समाज, माली समाज की महिलाएॅ एवं अन्य समाजों महिलाएॅ एवं महिला संगठन शाम 4 बजे गांधी चौराहें पर एक ज्ञापन प्रशासन को सौंपेगी।

आरोपी की मौत की सजा के बाद कब्रिस्तान में भी नहीं मिलेगी सजा
मासूम बालिका के साथ अमानवीय कृत्य करने वाले आरोपी इमरान को मौत की सजा के उपरांत नगर के किसी भी कब्रिस्तान में उसको दफन करने की जगह नहीं दि जाएगी। यह बात अंजमुन इस्लाम अध्यक्ष युनुस शेख ने एवं डॉ शाहिद कुरैशी ने सोशल मीडिया पर भेजे अपने संदेश में कही है।

About The Author

I am Brajesh Arya

Related posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *