Breaking News

2 अप्रैल को शांतिपुर्ण मंदसौर बंद का आहवान- संयुक्त मोर्चा

मंदसौर। भारत बंद के समर्थन मे 2 अप्रैल 2018 को अ.जा., अ.ज.जा. के हितो को लेकर शांतिपुर्ण मंदसौर बंद रखने एवं मौन जुलुस निकालकर एक ज्ञापन राष्ट्रपति के नाम कलेक्टर को देने के लिए कल एस.सी., एस.टी के सामाजिक एवं कर्मचारी संगठनो के संयुक्त मोर्चे की एक बैठक अम्बेडकर मांगलिक भवन मे सम्पन्न हुई जिसमे अनुसुचित जाति, जनजाति अत्याचार निवारण अधिनियम को कमजोर करने वाले फैसले को लेकर सरकार से रीव्यू पिटीशन दायर करने एवं आरक्षण बचाने के समर्थन मे रणनिती बनाई गई। उक्त जानकारी देते हए सयुक्त मोर्चा के रामलाल लोदवार पुर्व अध्यक्ष अजाक्स ने प्रेस विज्ञप्ति जार कर बताया की अ.जा, अ.ज.जा अत्याचार निवारण अधिनियम शिथिल होने से समाज पर अत्याचार बढ़ेगा और सामाजिक असमानता को बढ़ावा मिलेगा। केन्द्र सरकार द्वारा भर्ति, पदोन्नित मे आरक्षण को जनसंख्यानुपात मे लागु कर लाभ दिए जाने की की मांग की जावेगी। 2 अप्रैल को अम्बेडकर चौराहा से एक मौन जुलुस निकाला जाऐगा जो नेहरू बस स्टैण्ड, गांधी चौराहा, बीपीएल चौराहा, उधमसिंह चौराहा, होते हुए कलेक्टर कार्यालय पहुॅचेगा जहां संयुक्त मोर्चे द्वारा राष्ट्रपति के नाम जिलाधीश को ज्ञापन दिया जाऐगा। बैठक मे अजाक्स के पुर्व जिलाध्यक्ष रामलाल लोधवार एवं अध्यक्ष हिरालाल मालवीय, अपाक्स के जिलाध्यक्ष चेतनदास गनछेड़, डॉ.अम्बेडकर जाग्रति मंच के राजेन्द्र सुर्यवंशी एडवोकेट, अजाक के जिलाध्यक्ष रूघनाथ पोकरवाल, सकल वाल्मिकी समाज से राजाराम तंवर, अखिल भारतीय वाल्मिकी महासभा के जीवन गौसर राजेश परमार, सतीश खेरालिया, उधमसिंह जनमंच के अध्यक्ष नागेश्वर सुर्यवंशी, उपाध्यक्ष शिवकुमार गेहलोत, सचिव नरेन्द्र बुच, अम्बेडकर सोशल ग्रुप के रामलाल जटीया, केशरीमल जटीया नागेश्वर मरमट, भीम शक्ति राजेश परमार, बंशीलाल बंसेर, पवन रैदारास, धमेन्द्र जटीया, राजेश भरतीय, भांबी समाज के अध्यक्ष भेरूलाल पंवार, एडवोकेट, गणपत तेनीवार, मेघवाल समाज के विपीन चरेड़, अहिरवार समाज राम जनाकी विकास समिति के अध्यक्ष गोपाल चौहान गुराडि़या देदा, पुष्कर अहिरवार, जटीया समाज से दिनेश जाटव, रवि जटीया, सुर्यवंशी समाज के गोपाल सुर्यवंशी और गोपाल परमार के अलावा आदी कई सामाजिक संगठनो एवं कर्मचारी संगठनो के प्रबुद्वजन उपस्थि थे।

 

About The Author

I am Brajesh Arya

Related posts