Breaking News

20 जून के बाद सक्रिय मानसून की उम्मीद, बारिश पूर्व की तैयारियों में लगे लोग 

मंदसौर। अरब सागर से उठा मानसून अब कुछ कमजोर नजर आने लगा है। मौसम वैज्ञानिकों के अनुसार 15 जून को आने वाला मानसून अब 20 जून तक आ सकता है। जिसे लेकर लोग अब अपनी अपनी तैयारियों में लग गये है।  आगामी वर्शा सत्र में कच्ची छत होने से कहीं आंगन ना भीग जाए इस डर से लोग अभी से इस समस्या से निपटने की तैयारियां करने लगे हैं। कोई अपनी छत पर मिट्टी के कवेलू बिछा रहा है, तो कोई बाजार में छत पर ढकने के लिए बड़े-बड़े तीरपाल खरीद रहा है।

जून माह आधा बित चुका है। और एक सप्ताह के अंदर  मानसूनी बारिश के प्रारंभ होने की उम्मीद है। यानि बारिश की तैयारी अब लगभग हो चुकी है। एसे में लोग वश्वर्षाजन्य आफतों से भी बचाव के लिए तैयारियों में लग गए हैं। ग्रामीण क्षेत्रों में अधिकांष कच्चे मकान ही होते हैं, जिनमें बारिश के दौरान छत टपकने लगती है। इसीके चलते लोगों ने अभी से अपने आशियानों को बारिश से बचाने की कवायद शुरू कर दी है। जिला मुख्यालय व तहसील मुख्यालयों पर बड़ी संख्या में प्रतिदिन ग्रामीण पहुंचकर घरों की छत पर बिछाने के लिए तीरपाल खरीद रहे हैं, तो कोई अपने कच्चे मकान की छत पर कवेलू लगाने में व्यस्त है। इन दिनों शहर में कवेलू, तीरपाल सहित इस तरह की हर वो सामग्री जिसके माध्यम से घर को बारिश से बचाया जा सकता है, उनकी बिक्री जोरों पर है। लोग बारिष के दौरान छत टपकने जैसी परेशनियों से निजात पाने के लिए अभी से जूट गए हैं और बाजार से खरीदारी कर मकानों की छत पर बारिश के पानी की निकासी के उचित मार्ग की व्यवस्था कर रहे हैं। इधर, शहर के कवेलू, तीरपाल आदि व्यापारियों ने भी बड़ी मात्रा में इस तरह का स्टॉक पहले से ही कर लिया था।

भावों में यहां भी तेजी – सदर बाजार और बस स्टेण्ड स्थित प्लास्टिक तिरपाल के दुकानदारों ने बताया कि इस वर्ष भावों में 20 से 25 प्रतिशत तक की बढ़ोत्तरी हुई है। जीएसटी का असर तिरपाल के उपर भी हुआ है।

दिनभर चली तेज हवाएॅ – गुरूवार को सुबह से ही चलना प्रारंभ हुई तेज हवाएॅ दिनभर जारी रही। जिससे तापमान में भी गिरावट दर्ज की गई और भीषण तपती गर्मी से लोगों को राहत मिली।

About The Author

I am Brajesh Arya

Related posts