Breaking News

20 लाख रूपये के चोरी के टायर जब्त, तीन आरोपी गिरफ्तार 

210 टायर मिले पुलिस को

मंदसौर। शनिवार को पुलिस अधीक्षक हितेश चोधरी ने पत्रकारा वर्ता कर टायर चोरी के एक बड़े मामले का खुलासा किया। श्री चौधरी ने बताया कि मुखबिर से सूचना प्राप्त हुई कि कुछ आरोपियों के द्वारा लाखों रूपये के टायर चोरी कर मंदसौर लाए जाकर विभिन्न स्थानों पर रखकर बेचने का प्रयास किया जा रहा है।

उक्त सूचना पर पुलिस अधीक्षक हितेश चौधरी के मार्गदर्शन में एवं एएसपी मनकामना प्रसाद के नेतृत्व में कोतवाली टीआई नरेन्द्र सिंह यादव के साथ एक टीम गठित की गई। इसी तारतम्य में टीम को मुखबिर सूचना प्राप्त होने पर प्रतापगढ़ पुलिया के पास पहंुचकर प्राप्त सूचना की तस्दीक हेतु दो स्वतंत्र साक्षियों को लेकर टीम को लेकर गए। उक्त स्थान पर देखा जो एक व्यक्ति नाका नं 10 पर गौशाला के पास कुछ टायरों को गाड़ी से निकालकर पाया गया। पूछताछ में अपना नाम निरज पिता चेतनप्रकाश अग्रवाल 32 वर्ष निवासी सीतामउ फाटक बताया।

जिससे प्यारचंद गायरी निवासी नंदावता थाना भावगढ़ से कुल 55 टायर कम किमत में खरीदे थे। तथा मोतीलाल ने बताया कि चोरी के टायर है। बील वगैराह नहीं मिलेगा। लालच आने से 1 लाख 75 हजार में खरीद लिए थे क्योंकि मेरे टायर की दुकान है। मोतीलाल ने बताया था कि उसके पास और भी टायर है आवश्यकता होतो तो खरीद लेना। कब्जे से मौके पर 10 टायर जब्त कर आरोपी को साथ लेकर आरोपी का कृत्य धारा 411 भादवि के तहत दण्डीय होने से मौके पर 10 चोरी के टायर जब्त किए गए। बाद में आरोपी की निशानदेही से उसके निवास स्थान पर बने गोदाम से 45  नग टायर और मिले। जिनमें 41 छोटे तथा 4 बड़े नग करीब ढाई लाख रूपये की कीमत के जब्त किये। अन्य आरोपी मोतीलाल की तलाश करते हुए मिला इससे पूछताछ करते हुए कुल 71 नग छोटे टायर 4 लाख 26 हजार रूपये के जब्त किए जाकर आरोपी मोतीलाल पिता प्यारचंद गायरी को गिरफ्तार किया गया। बाद में आरोपी मोतीलाल की निशानदेही से आरोपी अफजल पिता अकरम उम्र 24 वर्ष निवासी मर्दादीन मोहल्ला, मंदसौर को पकड़ा। आरोपी अफजल के बताए अनुसार भालोट किनारे झाडि़यों में छुपाये गए 48 नग एवं 18 नग बड़े टायर 5 लाख 58 हजार रूपये के जब्त किए। बाद में मोतीलाल की निशानदेही पर ग्राम दाउदखेड़ी पहंुचे जहां आरोपी को पुलिस की आने की खबर से वह फरार हो गया। आरोपी तौफिक के घर से कुल 18 बड़े टायर 2 लाख 70 हजार रूपये के जब्त किए गए। प्रकरण में आरोपीगणों से पूछताछ करने पर आरोपी राजीव माली एवं शैलेष धुलिया महाराष्ट्र के साथ योजना बनाते हुए रतलाम फोरलेन से किसी ट्रक से टायर चुराए थे तथा कम कीमत में बाजार मेें बेचने का कार्य किया जाता था।

About The Author

I am Brajesh Arya

Related posts