Breaking News

मंदसौर छोटी बड़ी ख़बरें : 30 July 2019

दशपुर यातायात सलाहकार बैठक संपन्न

ओमप्रकाश मित्तल अध्यक्ष एवं राजेश नामदेव संयोजक मनोनित

मंदसौर-मंदसौर दशपुर यातायात सलाहकार की बैठक आयोजित हुई जिसमें जिले के समस्त यातायात सलाहकार सम्मिलित हुए एवं नवीन कार्यकारणी का गठन हुआ। जिसमें ओमप्रकाश मित्तल को सर्वसम्मति से अध्यक्ष चुना गया। राजेश नामदेव को संयोजक तथा दरियाव सिंह लोढ़ा, ललित सेनी एवं फुन्दा सिंह सिसौदिया को संरक्षक बनाया गया। तत्पश्चात इन सभी की सहमति से संपूर्ण कार्यकारिणी का गठन किया गया। समिति मंे उपाध्यक्ष राहुल तावरे, राकेश फरक्या, सचिव धमेन्द्र सिंह मंडलोई, बलराम व्यास, कोषाध्यक्ष अनील मालीवाल, सह कोषाध्यक्ष नरेन्द्र नामदेव, महामंत्री राजेन्द्र शर्मा, मुकेश चनाल, संगठन मंत्री गोवर्धनसिंह भरत बघेरवाल एवं कार्यकारिणी सदस्य के रूप में अंतिम चौरडिया, शंकरलाल पाटीदार, अशोक बाकलीवाल, हमीद भाई, संजय जैन, कल्पेश मेहता, को मनोनीत किया गया। कार्यकारिणी के गठन पर जिले के समस्त यातायात सलाहकार एवं अभिकर्ताओं ने हर्ष व्यक्त कर बधाई एवं शुभकामनाएं दी।


प्रशासन की संयुक्त टीम ने की खाद्य संस्थानों पर कार्यवाही

नगर में पांच संस्थानों से लिये सेम्पल

मंदसौर। खाद्य एवं औषधि विभाग के आयुक्त और स्वास्थ्य मंत्री तुलसी सिलावट के निर्देेशानुसार जिला कलेक्टर मनोज पुष्प के मार्गदर्शन में खाद्य एवं औषधि विभाग की टीम और जिले के बड़े अधिकारी संयुक्त रूप से जिले भर में लगातार कार्यवाही कर रहे है।

मंगलवार 3 जुलाई को विभाग के अधिकारियों ने कार्यवाही कर सेम्पल जब्त किए। खाद्य एवं सुरक्षा अधिकारी कमलेश जमरा ने बताया कि मंगलवार को को मंदसौर नगर के खाद्य संस्थानों पर कार्यवाही की गई। जिसके अंतर्गत बंसल दूध डेयरी, जनकुपूरा से भैंस का दूध, बीकानेर स्वीट्स के गोडाउन पारख कॉलोनी से मीठा मावा, महिला टेªडर्स पारख कॉलोनी से कुरकुरे, गोविन्द स्वीट्स के औद्योगिक क्षेत्र स्थित गोडाउन से बंगाली मिठाई और केक, राधा स्वीट्स के मुखर्ची चौक स्थित गोडाउन से घेवर का सेम्पल लिया गया है जिसे आगे प्रयोगशाला में जांच हेतु भेजा जाएगा। जांच रिपोर्ट आने पर नियमानुसार कार्यवाही की जाएगी। श्री जमरा ने बताया कि इस बार मिठाई दुकानों के गोडाउन पर जाकर कार्यवाही की गई व वहां की साफ सफाई को भी देखा। श्री जमरा ने बताया कि इसके साथ ही विभाग द्वारा अन्य संस्थानों का भी निरीक्षण किया गया। श्री जमरा ने बताया कि कार्यवाही करने वाली टीम में एसडीएम अंकिता प्रजापति, तहसीलदार श्री नांदेड़ा, नपा के स्वास्थ्य अधिकारी केजी उपाध्यय व पटवारी शामिल थी।
श्री जमरा ने बताया कि निर्देशानुसार आगे भी लगातार कार्यवाही जा रहेगी।


शुद्ध पर्यावरण ही स्वस्थ रहने का मूल आधार-जी.डी. मित्तलमेघदूत नगर योग केन्द्र के 100दिन पूर्ण होने पर साधकों ने किया पौधरोपण

मन्दसौर। दशपुर योग शिक्षा संस्थान के मेघदूत नगर योग केन्द्र के 100 दिन पूर्ण होने पर  30 जुलाई, मंगलवार की प्रातःकाल केन्द्र प्रभारी योग शिक्षक जी.डी. मित्तल के मार्गदर्शन में साधकों ने मेघदूत नगर उद्यान में पौधरोपण किया एवं उन्हें पल्लवित करने की जिम्मेदारी भी ली।

इस अवसर पर श्री मित्तल ने कहा कि शुद्ध पर्यावरण ही स्वस्थ रहने का मूल आधार है। अगर वृक्ष नहीं होगे, पर्यावरण शुद्ध नहीं होगा तो मनुष्य स्वस्थ नहीं रहेगा। इसलिये पर्यावरण और हरियाली को बनाये रखने के लिये पौधे रोपकर उन्हें वृक्ष का रूप दे।

उल्लेखनीय है कि योग गुरू श्री सुरेन्द्रजी जैन के निर्देशन शुरू हुए इस योग केन्द्र पर 100 दिनों में श्री मित्तल सा. द्वारा करवाये जा रहे योग क्रियाओं से साधकों को काफी फायदा हो रहा है। उनके शारीरिक रोग दूर हुए और संयमित दिनचर्या शुरू हुई है।


धर्म के प्रति श्रद्धा से ही आत्म कल्याण का मार्ग प्रशस्त होगा

मन्दसौर। नयापुरा आदिनाथ जैन मंदिर में विराजित पूज्य साध्वी विरलप्रभा श्रीजी एवं विपुलप्रभा श्री जी मा, सा ने अपने चातुर्मासिक प्रवचन में कहा कि जब तक धर्म के प्रति श्रद्धा नहीं होगी, आत्म कल्याण का मार्ग प्रशस्थ नहीं होगा।

आपने कहा कि जिस व्यक्ति के जीवन में धर्म के प्रति राग ना हो वो हर भव जन्म-मृत्यु के चक्र में फसा रहता हैं। जिस तरह पानी मे बंधी नाव की रस्सी नहीं खोली जाए तब तक वह नदी में चल नहीं सकती उसी प्रकार जब तक हम अपने राग, द्वेष, क्रोध, कषाय के बंधनों को नहीं खोलेगे तब तक हमारी शरीर से बंधी आत्मा का कल्याण नहीं होगा। हमें परमात्मा के प्रति सच्ची श्रद्धा भाव रखना चाहिए।

आपने यह भी कहा कि कर्म फल किसी को नहीं छोड़ते हैं हर व्यक्ति को अपने पिछले जन्म के कर्मो के अनुसार ही इस जन्म में अच्छे बुरे फल भोगने पड़ते हैं। समय रहते धर्म की आराधना करें ताकि अंतिम समय मे हमारी सतगति हो सके।

इस अवसर पर बलवंतसिंह कोठारी, कमल कोठारी, यशवंत पोखरना, अभय डोसी, राजेन्द्र कोठारी, अरविंद बोथरा, ईश्वर भावनानी आदि समाजजन उपस्थित थे।


लायंस क्लब को जुलाई माह में 6 नेत्रदान प्राप्त हुए

मन्दसौर। ‘‘नेत्रदान-महादान’’ के संकल्प के साथ लायंस क्लब द्वारा निरंतर नेत्रदान हेतु अलख जगा रखी है जिसके परिणाम स्वरूप क्लब को जुलाई माह का 6टा नेत्रदान मनोहरलाल सेठिया की पत्नी स्व. श्रीमती लीलादेवी सेठिया के नेत्रदान के रूप में प्राप्त हुआ। यह नेत्रदान पोरवाल समाज अध्यक्ष प्रवीण गुप्ता, रेडक्रास के पूर्व चेयरमेन प्रीतेश चावला, समाजसेवी कमलेश सोनी लाला के विशेष सहयोग से प्राप्त हुआ।

नेत्र उत्सर्जन डॉ. किशोर शर्मा ने किया। इस अवसर पर लायंस क्लब अध्यक्ष सीए विकास भंडारी, सचिव रत्नेश कुदार, लायन सुरेश धनोतिया, अभय मेहता, गोविन्द मुजावदिया, आशीषसिंह मण्डलोई, पंकज पोरवाल, जितेन्द्र पोरवाल ने उपस्थित होकर स्व. श्रीमती सेठिया को विनम्र श्रद्धांजलि देते हुए इस पुनित कार्य के लिये सेठिया परिवार को आभार व्यक्त किया।


मन्दसौर वैष्णव बैरागी समाज रविवार को अभिषेक मे भाग लेगा

मन्दसौर। वैष्णव समाज के जन नायक, उद्योगपति , शिक्षा क्रांति के उद्धोषक , अखिल भारतीय वैष्णव ब्राम्हण सेवा संघ के राष्ट्रीय अध्यक्ष सतीश वैष्णव के जन्मदिन के अवसर पर  4 अगस्त  को अभा वैष्णव सेवा संघ के सभी सदस्य, पदाधिकारीगण मय परिवार भगवान पशुपतिनाथ महा अभिषेक मे हिस्सा लेंगे। अभिषेक में हिस्सा लेकर समाजजनांे व शहरवासियांे के अमन शांति एवं आने वाले त्यौहार अच्छे से मने इस हेतु भगवान पशुपतिनाथ से कामना करेंगे। इसी के साथ 2 अगस्त को समाजजन घर-घर पौधा लगाकर हरियाली को बढावा देंगे। इस अवसर पर जिलाध्यक्ष महेश कुमार वैष्णव, प्रकाश बैरागी , श्रीमती रेणुका रामावत , श्रीमति माधवी बैरागी,  कमलदास बैरागी , ओम बैरागी , नविन बैरागी , श्याम बैरागी , दीनदयाल बैरागी, मनीष बैरागी, नन्दकिशोर बैरागी आदि ने वैष्णव बैरागी समाज जनों से   अधिक से अधिक संख्या मे पधार कर भगवान श्री पशुपतिनाथ महादेव के अभिषेक मंे हिस्सा लेने का आग्रह किया।


मंदसौर में शासकीय मेडिकल कॉलेज स्थापित करे – बागडि़या

मन्दसौर। समाजसेवी औंकारलाल बागडि़या ने मांग की है कि मंदसौर शहरवासी काफी समय से कुछ सुविधाओं की मांग कर रहे है। जिन्हें पूरी करने के लिये जनप्रतिनिधियों एवं राजनैतिक दलों को पहल करते हुए राज्य एवं केन्द्र सरकार से मांगों को प्राथमिकता से पुरा करवाये जिससे मंदसाौर के नागरिकों को विकास की सौगाते मिल सके।

औंकारलाल बागडि़या ने कहा कि मंदसौर शहर में शासकीय मेडिकल कॉलेज की अत्यधिक आवश्यकता है। यह मांग कई समय से मंदसौर नगर के नागरिक करते आ रहे है तथा मेडिकल कॉलेज नहीं होने से इमरजेंसी में बाहर जाना पड़ता है जिससे गरिबों एवं मध्यमवर्गीय पर अतिरिक्त धन का भार बढ़ता है तथा कई बार देर होने से जान भी चली जाती है। इसलिये तत्काल मेडिकल कॉलेज स्थापित करवाये जाने के प्रयास किये जावे।

मंदसौर से उज्जैन की दूरी काफी अधिक है जिससे अपने कार्यों के लिये बार-बार संभाग के चक्कर मंदसौर जिले एवं आसपास के जिलवासियों लगाना पड़ते है इसलिये मंदसौर को संभाग बनाया जाये। जिससे आसपास के क्षेत्रों रतलाम, जावरा, मंदसौर, नीमच, मनासा, सिंगोली, भानपुरा, शामगढ़, सुवासरा, सीतामऊ, दलौदा को इत्यादि शहरों को संभाग बनने से समय की बचत व पैसे की बचत होगी व उज्जैन जाना नहीं पड़ेगा व मंदसौर संभाग बनने से इस क्षेत्र को सुविधाएं प्राप्त होगी।


माहेश्वरी भवन पर पौधरोपण किया समाजजनों ने

मन्दसौर। सावन मास में श्री चारभुजानाथ मंदिर पंच माहेश्वरीयान ट्रस्ट के तत्वावधान में समाजजनों ने पौधरोपण कर पर्यावरण की सुरक्षा का संकल्प लिया।

नयापुरा रोड़ स्थित श्री माहेश्वरी भवन के प्रांगण में महेशबन्धुओ ने पौधरोपण किया। इस दौरान समाजजनों ने बोटलपाम, अशोक, फायकस, बिल्व पत्र व मीठा नीम सहित विभिन्न प्रजातियों के करीब 100 से अधिक पौधे रोपे गए। ट्रस्ट के अध्यक्ष कृष्णचंद चिचानी की अगुवाई समाज के युवाओं और महिलाओं ने भी सहभागिता दर्ज की। अध्यक्ष चिचानी ने कहा कि पर्यावरण संरक्षण और उसका विकास केवल सरकार या विभाग की नहीं बल्कि आमजन और समाज-संगठनों का दायित्व हैं। आपने कहा कि पौधा रोपने से बड़ी जवाबदारी उनकी देखभाल की हैं। इस अवसर पर ट्रस्ट के पूर्व अध्यक्ष एवं वरिष्ठ समाजसेवी प्रहलाद काबरा ने कहा कि विकास की दौड़ में पर्यावरण की बलि चढ़ी है। यही वजह है कि, आज स्वस्थ वातावरण और सुदृढ़ पर्यावरण की जरूरत है। उन्होंने कहा कि समाजजन ने जो पौधे रोपे है, वह आने वाले समय में विशाल पेड़ का रूप ले और पर्यावरण को सुदृढ़ बनाये इसके लिये उनका पालन-पोषण सभी मिलकर करे।


मनोकामना अभिषेक मंच से धरती माता को हरी चुनरी औड़ाने का दिया जा रहा है संदेश

मंदसौर। श्रावण मास में श्री पशुपतिनाथ मंदिर में हो रहे मनोकामना अभिषेक के 14वें दिन रजत प्रतिमा का पूजन महिला मण्डल उ.मा.वि. मंदसौर के प्रधानाध्यापक ब्रजेश विजयवर्गीय, उज्जवल-शिखा, दिनेश-शानु, महेश-राधिका, भंवरलाल अजमेर, भेरूलाल खिलचीपुरा, रामचन्द्र राठौर, डॉ. रविन्द्र पाण्डेय, सत्येन्द्रसिंह सोम, राजाराम तंवर, शिवनारायण पाटीदार गुराडि़यादीदा आदि ने किया। अभिषेक में महिला मण्डल उ.मा.वि. मंदसौर के विद्यार्थियों सहित 400 अभिषेकार्थियों ने अभिषेक में भाग लिया।

इस अवसर पर ब्रजेश विजयवर्गीय ने मनोकामना अभिषेक को भारत में श्रावण मास में आयोजित भगवान श्री पशुपतिनाथ मंदिर मंदसौर का अभूतपूर्व अनुष्ठान बताते हुए कहा कि विद्यार्थियों का अभिषेक में सम्मिलित होकर बड़ी तल्लीनता से अभिषेक के प्रति जो रूचि दिखाई जा रही है इससे उनमें भारतीय संस्कार, मर्यादा और अनुशासन को जीवन में उतारने के लिये  प्रेरित कर रहा है जो भावी पीढ़ी के संस्कारित उज्जवल भविष्य के लिये शुभ होगा।
अभिषेक मंच से अभिषेकार्थियों को प्रतिदिन भोजन करने से पहले भजन, और शयन करने से पूर्व टीवी सीरियल आदि न देखते हुए ज्ञानवर्धक अचछी  पुस्तकों, गं्रथों का स्वाध्याय करने का संकल्प दिलाया जा रहा है, साथ ही धरती माता को प्रणाम करने और हमारी धरती माता को हरी चुनरी पहनाने के लिये पौधरोपण तथा जिसे प्रातः उठते ही हम माँ कहकर प्रणाम करते है उस धरती मॉ पर पोलीथीन कचरा-गंदगी नहीं करते हुए स्वच्छता रखने के लिये दृढ़ संकल्प लेना चाहिए।


तहसील स्तरीय शालेय बॉलीबाल प्रतियोगिता का हुआ शुभारंभ

मन्दसौर। स्थानीय सेंट कबीर पब्लिक स्कूल कोठारी नगर के संयोजन में तहसील शालेय बॉलीबाल प्रतियोगिता का शुभारंभ जिला क्रिड़ा अधिकारी अशोक पाटीदार के मुख्य आतिथ्य, खेल एवं युवक कल्याण विभाग के अधिकारी विजेन्द्र देवड़ा की अध्यक्षता एवं उत्कृष्ट विद्यालय प्राचार्य पृथ्वीराज परमार, के विशेष आतिथ्य में सम्पन्न हुआ। इस अवसर पर प्रतियोगिता संयोजक एवं प्राचार्य सेंट कबीर स्कूल शेर मोहम्मद खान द्वारा सभी अतिथियों का पुष्पमालाओं से स्वागत किया और अपने स्वागत भाषण व प्रतियोगिता के संबंध में जानकारी देते हुए बताया कि तहसील स्तरीय शालेय बॉलीबाल प्रतियोगिता में मंदसौर तहसील के 12 विद्यालयों से 14, 17 तथा 19 वर्ष के कुल 108 बालक बालिकाओं ने भाग लिया। जिसमें 14 वर्ष के 10 बालक एवं 16 बालिका, 17 वर्ष के 30 बालक एवं 16 बालिका तथा 19 वर्ष वर्ग समूह के 24 बालक तथा 12 बालिकाओं ने भाग लिया।  इस प्रकार कुल 64 बालक और 44 बालिकाओं ने तहसील स्तरीय प्रतियोगिता में भाग लेकर उत्कृष्ट खेल का प्रदर्शन किया।

इस अवसर पर श्री पाटीदार ने खिलाड़ियों से अनुशासन एवं खेल भावना से उत्कृष्ट खेल प्रदर्शन करने हेतु प्रेरित किया।

विजेन्द्र देवड़ा ने कहा कि खेल में हारजीत तो लगी रहती है, हारने वाले अपनी गलतियों से सबक ले एवं उन्हें दूर कर आगामी प्रतियोगिता के लिये पूरी मेहनत से अपने आप को तैयार करें।

श्री परमार ने कहा कि खेल शिक्षा का एक अभिन्न अंग है। इससे शारीरिक एवं मानसिक विकास होता है, हर एक विद्यार्थी को अपनी रूचि अनुसार खेलों में भाग लेना चाहिये।

इस अवसर पर अतिथियों का स्वागत प्रतियोगिता संयोजक व प्राचार्य सेंट कबीर स्कूल शेर मोहम्मद खान, महेश कविश्वर, नीता भदौरिया, परवेज खान, कृष्णा राठौर, देवेन्द्र बैरागी, सचिन काले, त्रिभुवन कविश्वर, अभिषेक सेठिया, धर्मपाल देवड़ा, राजेन्द्र श्रीवास्तव व राहुल बैरागी ने किया। कार्यक्रम का संचालन त्रिभुवन कविश्वर ने किया व आभार प्रतियोगिता संयोजक प्रभारी नीता भदौरिया ने माना। यह जानकारी खेल शिक्षक अभिषेक सेठिया ने दी।


समितियों से नाम हटाने केा लेकर पार्षदों ने दिया मनोनित नपाध्यक्ष को पत्र

मन्दसौर। नगरपालिका परिषद् मंदसौर के मनोनित अध्यक्ष मो. हनीफ शेख, को शाकेरा खेड़ीवाला पार्षद वार्ड नं. 28, विजय गुर्जर, पार्षद, वार्ड नं. 21, इस्माईल खा मेव, पार्षद वार्ड नं. 15, रूपल संचेती, पार्षद वार्ड नं. 1, नाजिया आरीफ बेग, पार्षद वार्ड नं. 27 ने पत्र देकर नगरपालिका मंदसौर की विभिन्न समितियों की सदस्यता से नाम हटाने का कहा गया।

उक्त पार्षदों ने पत्र में मनोनित नपाध्यक्ष को लिखा है कि आपके द्वारा नगरपालिका परिषद्, मंदसौर में विभिन्न समितियों का गठन किया गया।  जिसमें हम पार्षदों को सदस्य के रूप में शामिल किया गया है। जिसकी सूचना हमें समाचार पत्रों के माध्यम से प्राप्त हुई है। अतः समितियों के सदस्य पद से हम पार्षदगणों का नाम हटाया जाये।


मंदसौर विश्वविद्यालय में जल संरक्षण के प्रति किया गया जागरूकता

मंदसौर विश्वविद्यालय की एनएसएस इकाई ने जल संरक्षण के प्रति जागरूकता बढ़ाने के लिए “समर इंटर्न्स डे” का सफलतापूर्वक आयोजन किया। कार्यक्रम की शुरुआत विश्वविद्यालय के कुलपति डॉ. शैलेंद्र शर्मा एवं  एनएसएस के प्रभारी राकेश पाटीदार द्वारा अतिथियों के स्वागत के साथ की गई। आयोजन  में जल संसाधन विभाग के परियोजना प्रशासक और एसएसपीआईयू के  विशेषज्ञ श्री.प्रमोद वैद्य  ने “वाटर हार्वेस्टिंग” विषय पर विशेष चर्चा की। उन्होंने अपनी चर्चा में छात्रों के साथ विभिन्न विषयों जैसे जल संचयन के महत्व, निम्न जल स्तर की समस्याओं के समाधान के तरीके व प्रभाव के बारे में विस्तार से चर्चा की। मानसून में अनियमितताओं के कारण पर्यावरण में तेज़ी से  परिवर्तन पर उन्होंने जल संचयन एवं संरचना और सरकार द्वारा उपलब्ध कराए जाने वाली सब्सिडी के बारे में भी बताया। इसी के साथ डब्ल्यूआरडी की एई सुश्री पलक अग्रवाल ने “जल शक्ति अभियान” पर प्रस्तुति दी और छात्रों को जल सरंक्षण के प्रति समाज में जागरूकता फैलाने के लिए प्रेरित किया।  कार्यक्रम के अंत में डीन प्रबंधन  कर्नल आनंद कुमार ने सभी को उनकी शानदार उपस्थिति के लिए धन्यवाद ज्ञापित दिया। उक्त जानकारी विश्वविद्यालय के पत्रकारिता एवं जनसंचार विभाग द्वारा दी गयी |

About The Author

I am Brajesh Arya

Related posts