Breaking News

28 साल बाद भी कन्या हाईस्कूल का नही है भवन और नहीं है बैठने की व्यवस्था, बालिकाएॅ भटकने को मजबूर

नाहरगढ़ निप्र। आजादी के बाद से कई सरकारे आई गई सभी ने विकास व योजना की बडी – बडी बाते हुई। आज भी ग्रामीण अंचल मे मूलभूत आवश्यकता के लिऐ दर – दर भटकना पढ रहा है। जनप्रतिनीधी व नेताओ गांव विकास पर कोई ध्यान नही है। सन् 1989 मे हाईस्कूल की मंजूरी हुई थी। यह विघालय बालक प्राथमिक विघालय के भवन मे द्वितीय पाली मे कई वर्षो से चलता आ रहा है।
इस भवन मे कमरे हाईस्कूल के लिऐ भी कम पढते है।
शासन ने मांग पर बालिका शिक्षा को बढाने के लिऐ सन् 2014 से हायर सेकण्डरी की कक्षाऐ शुरू कर दी है। पढाई के लिऐ कम से कम 12 कक्ष व स्टाफॅ के लिऐ 2 कमरे तथा प्रयोगशाला की बात अलग है।
दोनो पार्टी के नेता व चुने जनप्रतिनीधी सासंद व विधायक के आगे पिछे घुमने के अलावा विकास , योजना व समस्या पर किसी का कोई ध्यान नही है । युवा जागरूक कम पढा राजनीती के चक्कर मे सही गलत का फैसला नही ले पा रहा है। सामाजिक , बुध्दिजीवी व जागरूक मौन धारण कर बैठे है । स्कूल शिक्षा विभाग के अधिकारी भी इतने वर्षो के बाद भी बालिका शिक्षा पर कोई ध्यान नही दे पाये है । समय -समय पर विघालय मांग से अवगत करा रहा है ।मिडिया मे भी भवन की बात उठााई पर विभाग व शासन एंव प्रशासन ने गम्भीर विषय पर आज तक कोई ध्यान नही दीया ।यह सुवासरा विधानसभा की सीतामऊ तहसील की सबसे बडी पंचायत की बात है। यहा पर बालिकाऐ दो विधानसभा तथा तीन तहसील सीतामऊ,मल्हारगढ व मन्दसौर ग्रामीण अंचल से पढने आती है।
इस विधानसभा मे अनेक विधालय भवन विहीन है । अन्य विघालय मे संचालित हो रहे है । हाईस्कूल कन्या नाहरगढ, कचनारा ,रणायरा , मोतीपूरा तथा हायर सेकण्डरी कन्या नाहरगढ़, मोतीपुरा, व ऐरा विधार्थी बैठने के लिऐ परेशान है ।ऐसे मे भवन विहीन शालाओ के लिऐ जिम्मेदार कौन है । जागरूक ग्रामीणो ने सासंद ,विधायक ,जनप्रतिनीधी तथा शासन , प्रशासन व विभाग से ध्यान देने की मांग की है ।
इनका कहना है।
तुलसीराम राठौर ने कहा कि समय – समय पर सभी को अवगत कराते आ रहे है । किसी ने भी गम्भीरता नही दिखाई । विभाग को जागरूकता दिखानी चाहिए।
जनपद सदस्य महेश माली ने बताया कि बडी समस्या है । सभी को आगे आकर समाधान पर ध्यान देना होगा । सभी मिलकर प्रयास करेगे । संगठन व सत्ता स्तर पर बात पहूचाऊगा।

भीषण गर्मी,यात्रि प्रतिक्षालय के पंखे बंद पडे
सीतामऊ निप्र। भीषण गर्मी के दिनो में यात्रि प्रतिक्षालय में लगे पंखे को लम्बे अरसे से बंद पडे है नगर पंचायत के उदासीनता के चलते बाहर से आने वाले यात्रियो को यात्रि प्रतिक्षालय में भीषण गर्मी का सामना करना पड रहा है।

About The Author

I am Brajesh Arya

Related posts