Breaking News

55वें पशुपतिनाथ मेले का शुभारंभ मंगलवार को हुआ

मंदसौर। भगवान श्री पशुपतिनाथ महादेव के 55 वे मेला का कल भव्य समारोह में शुभारंभ किया हुआ। पशुपतिनाथ महादेव यह मेला 19 नवम्बर तक आयोजित होगा।नपा परिषद मंदसौर के द्वारा आयोजित इस मेला के शुभारंभ के मौके पर बडी संख्या में नगर के गणमान्य नागरिकगण व नपा परिषद के जनप्रतिनिधिगण उपस्थित थे। मेला शुभारंभ के अवसर पर कार्यक्रम में पधारे अतिथियों व नपा के जनप्रतिनिधियो ने पशुपतिनाथ मंदिर के समीप स्थित दिपमालिका पर लगायी गयी रौशनी का स्वीज चालु कर मेले की औपचारिक शुरूआत की।

कार्याक्रम के मुख्य अतिथि प्रदेश के पूर्व मंत्री व मल्हारगढ विधायक श्री जगदीश देवडा ने कहा कि नपा परिषद के अध्यक्ष व परिषद के सभी जनप्रतिनिधि बधाई के पात्र है जो इस मेला को भव्यतम रूप से आयोजित करने के लिये पुरे समर्पित भाव से काम कर रहे है। पशुपतिनाथ मेला में आने वाले व्यापारीयो को बेहतर से बेहतर सुविधा मिले यह हम सभी का प्रयास किये जाने चाहिए। इसमें मंदसौर नगर व जिले की प्रसिद्धि पुरे में फैलगी।

अध्यक्षीय उद्बोधन में क्षैत्रिय विधायक श्री यशपालसिंह सिसौदिया ने कहा कि 1962 में आज से 55 वर्ष पूर्व पशुपतिनाथ महादेव मेला की शुरूआत हुई थी। स्वतंत्रता संग्राम सैनानी पं मदनलाल चौबे इस मेला के पहले थे। नपा परिषद जब यह मेला आयोजित करती थी तब पशुपतिनाथ मंदिर व मेला क्षैत्र में चंद्रपुरा यह मेला आयोजित करती थी। तब पशुपतिनाथ मंदिर  व मेला क्षैत्र चंद्रपुरा ग्राम पंचायत में आता भी फिरभी नपा परिषद ने मेला के आयोजन के लिये पुरे मनोभाव से प्रयाय किये। भाजपा की नपा परिषदो के अध्यक्षो व सभापतियो ने इस मेला की भव्यता के लिये पुरजोर प्रयाय किये। पूर्व में यह मेला मात्र 5 दिवसीय या जो अब 20 दिवसीय हो चुका है। मेला समापन पर हर वर्ष अवधि बढाने का निवेदन व्यापारीयो की और से आता है यह बताता है कि मेला कितना लोकप्रियता की और अग्रसर है।

कार्यक्रम की विशेष अतिथि की पूर्व मंत्री व पेटलवाद की विधायक सुश्री निर्मला भुरिया  ने कहा कि जो भी व्यक्ति आता है उसके मन में पशुपतिनाथ  मंदिर के दर्शन का अवश्य ही भाव मन में आता  है। मेला भारतीय संस्कृति का हिस्सा रहा है पुराने समय में मेले ही मंनोरंजन के साधन होते थे। आज भी मेला भारतीय संस्कृति के पुर्नउत्थान में मददगार साबित हो रहा है।

मेला व तीर्थ विकास प्रााधिकरण के उपाध्यक्ष श्री महेन्द्रसिंह चाचू बन्ना ने कहा कि मप्र का मेला व तीर्थ विकास प्राधिकरण प्रदेश के तीर्थ स्थलो के विकास में भरपुर आर्थिक सहयोग दे रहा है। गत वर्ष प्रधिकरण ने 15 लाख रू की राशि नपा को पशुपतिनाथ मेला के लिये दी थी। इस भी इतनी राशि पुनः नपा परिषद को दी जायेगीं। आपने कहा कि पशुपतिनाथ मंदिर क्षैत्र में तीर्थ विकास योजना अंतर्गत प्राधिकरण स्थायी निर्माण कार्य के लिये धनराशि देगा। नपा परिषद व पशुपतिनाथ प्रबंध समिति इसके लिये प्रस्ताव दे जो भी प्रस्ताव आयेग उसके अनुरूप राशि मंजुर की जायेगी। आपने इस मौके पर मुख्यमंत्री तीर्थ योजना की प्रशंसा भी की और कहा कि प्रदेश की सरकार जो भी योजना की प्रशंसा भी की और कहा कि प्रदेश की सरकार जो भी योजना बनाती है वह सस्पशी योजना बनाती है तथा सभी वर्गो के लिये बनाती है।

कार्यक्रम में भाजपा जिला महामंत्री श्री अजयसिंह चौहान श्री महेन्द्र चौरडिया भाजपा दक्षिण मण्डल अध्यक्ष श्री संजय मुरडिया ने भी अपने विचार रखे।

नपाध्यक्ष श्री प्रहलाद बंधवार ने कहा कि भगवान पशुपतिनाथ महादेव के 20 दिवसीय मेला में मप्र व राजस्थान क्षैत्र ही नही अपितु पुरे देश के लोग आते है। कार्तिक पूर्णिमा पर कार्तिक स्नान का समापन होता है। इस दिन शिवना नदी में दिपदान करने की परम्परा रही है। नपा परिषद ने 55 वे मेला की भव्यता के लिये पुरजोर कोशिश की है। नपा परिषद इस वर्ष देश के ख्याति कलाकारो को बुलाने का प्रयास कर रही है।
स्वागत उद्बोधन ने देते हुए मेला समिति श्रीमति राधिका किशोर शास्त्री ने कहा कि पशुपतिनाथ मेला के सभापति पद पर पहली बार नपा परिषद ने वार्ड क्रमांक 26 जो कि पशुपतिनाथ व चंद्रपुरा क्षैत्र है यहॉ की पार्षद को जिम्मेदारी सौपी दी है इसके लिये नपाध्यक्ष श्री बंधवार व भाजपाा संगठन के प्रति आभारी हॅू।  कार्यक्रम में नपा उपाध्यक्ष श्री सुनिल महाबली, झाबुआ के भाजपा जिला उपाध्यक्ष हेमन्त भट्ट, बदनावर के भाजपा नेता नरेन्द्र राठौर भी मंचासीन थे।

कार्यक्रम में पधारे अतिथियो स्वागत नपाध्यक्ष श्री प्रहलाद बंधवार, नपा उपाध्यक्ष श्री सुनिल जैन महाबली, सीएमओ सविता प्रधान गौड, मेला सभापति श्रीमति राधिका किशोर शास्त्री, मेला समिति सदस्यगण श्रीमति आजाद कोठारी, श्रीमति दिपीका निलेश जैन, सुश्री रश्मि राठौर, यशवंत भावसार, जितेन्द्र सौपरा, नपा परिषद सभापतिगण मुकेश खमेसरा, पुलकित पटवा, विनोद डगवार, सुनिता बाहेती, विक्रम भैरवा, लिखित गौड, पार्षद निरांत बग्गा, संध्या शर्मा, राम कोटवानी, पार्षद प्रतिनिधि किशोर शास्त्री, शभुसेन राठौर, भारत कोठारी, निलेश जैन, पं अरूण शर्मा, अशोक कर्नावट, गुड्डु गढवाल, सीमा नागर, अनिल मालवीय, कमल कोठारी, कपिल भण्डारी, वरिष्ठ पत्रकार ब्रजेश जोशी, बंशीलाल टांक, भाजपा  नेता संजय पवार, महिला नेत्री सुनिता गुजरिया, प्रेमलता मिण्डा, सीमा चौरडिया, वंदना भावसार, दुर्गा भावनानी, भाजपा नेता राजाराम तंवर, कैलाश मालवीय, गौरर्धनलाल, मागीलाल कुमावत, अनिल टांक, संदीप मडोवरा, मनोज चौधरी, मुन्ना बेटरी, सुशील तरवेचा, रशीद रोदेवाला, करण परिहार, आशा देवी अग्रवाल, मनोहर चौहान, जाकिर नागौरी, अजिउल्लाह सर, प्रकाश जोशी, पंकज जोशी, दिलीप पारिख, प्रकाश सांवरिया, रमेश बमानिया, नपाा मेला लिपिक राजेन्द्र नीमा आदि ने किया। कार्यक्रम के प्रारंभ में सभी अतिथियों ने भगवान पशुपतिनाथ की अष्ठमुखी प्रतिमा का पूजन किया। कार्यक्रम का संचालन चंद्रशेखर नागदा ने किया तथा आभार नपा उपाध्यक्ष सुनिल जैन महाबली ने माना।

About The Author

I am Brajesh Arya

Related posts