Breaking News

56 क्विंटल 56 भोग नैवध बनाने में जुटे विभिन्न हलवाई

 

मन्दसौर। अखंड मंडलाकार, त्रिनेत्रधारी, विश्वप्रसिद्ध अष्ठमुखी भगवान श्री पशुपतिनाथ महादेव के दरबार में 25 अगस्त रविवार को अनेक आयोजन होंगें। भगवान का महारूद्राभिषेक कर मनमोहक श्रृंगार किया जाएगा एवं 56 क्विंटल का 56 भोग का नेवैद्य लगाया जाएगा। इन आयोजनों को लेकर तैयारियां जोरों-शोंरो से चल  रही है । छप्पन भोग का नैवेत्रद्य बनाने में विभिन्न हलवाई जुट गये है। इसी दिन विशालकाय ध्वजा भी मंदिर शिखर पर चढाई जाएगी।

भगवान श्री पशुपतिनाथ प्रातः काल आरती मण्डल के सरंक्षक पं. दिलीप शर्मा, प्रवक्ता उमेश परमार ने उक्त जानकारी देते हुए बताया कि,  25 अगस्त रविवार को छप्पन भोग का नेवैद्य लगेगा। भगवान को चढाया जाने वाला प्रसाद शुद्ध घी से बनाया जा रहा है। प्रातः काल आरती मण्डल के सदस्य इस अयोजन की तैयारीयों में लग गये है। उन्होनें बताया कि, रविवार को प्रातः 9 बजे मंदिर शिखर पर विशालकाय ध्वजा चढाई जाएगी। साथ ही अन्य मंदिरों पर ध्वजा लगाई जाएगी। महारूद्राभिषेक भी प्रातः 11 बजे शुरू होगा उसके बाद भांग से भी भगवान का अभिषेक किया जाएगा। मनमोहक श्रृंगार कर भगवान का नेवैद्य लगाया जाएगा। रविवार को शहर सहित ग्रामीण अंचलो से अनेक लोग इस अनूठे आयोजन में समिम्मलित होने आते है। भक्तों के लिए समुचित व्यवस्था जुटाई जा रही है। मंदिर परिसर में विशेष विद्युत साज सजा की जाएगी।

नेवैद्य बनाने में जुटे हैं कई हलवाई व सहयोगीः-भगवान का नेवैद्य शुद्ध घी से बनाया जा रहा हैं इस नेवैद्य को बनाने में जोधपुर के प्रसिद्ध हलवाई प्रेम भाई नेतृृत्व में 15 हलवाई की टीम लगी हुई हैं। यही नही 10 महिलाएं सहयोग कर रही साथ ही दस पुरूष भी नैवेद्य बनाने में जुटे हुए हैं।

 

About The Author

I am Brajesh Arya

Related posts