Breaking News

60 करोड़ के इस किसान मॉल का काम 24 माह में पूरा करने की डेटलाईन है

मंदसौर. कृषि उपज मंडी द्वारा शहर के गोल चौराहा क्षेत्र में पूरानी सब्जी मंडी में अत्याधुनिक सुविधाओं के साथ किसान मॉल का निर्माण करवाया जा रहा है। 60 करोड़ के इस किसान मॉल का काम 24 माह में पूरा करने की डेटलाईन है लेकिन अभी बेंसमेंट और ग्राउंड फ्लोयर का ही काम हुआ है। जबकि चार मंजिला 300 दुकानों व रेस्टारेंट वाला मॉल बनाना है। अब 8 माह में इस चार मंजिला बनने वाले मॉल का काम पूरा करने की मंडी के सामने चुनौती है। मंडी ने इस किसान मॉल को महात्मा ज्योति बा फूले का नाम दिया। इसमें 94 दुकानों की नीलामी पिछले दिनों होना थी, लेकिन एक आपत्ति से इसे निरस्त किया गया। इसके बाद दोबारा नीलामी की तिथि अब तक तय नहीं हुई है।

इधर नीलामी निरस्त होने के बाद से करोड़ों की लागत से बन रहे इस किसान मॉल का काम धीमा हो गया है। अब नीलामी हो और मंडी को राशि मिले तो मंडी इस मॉल का बचा हुआ काम पूरा करवाएगी। हालांकि अभी तक दोबारा नीलामी की तारीख ही तय नहीं हो पाई है।

प्रचार न करने की शिकायत पर निरस्त की थी नीलामी
बेसमेंट व ग्राउंड फ्लोवर का कार्य पूर्ण हो चुका है। प्रथम तल की 94 करीब दुकानों की नीलामी प्रक्रिया 29 दिसंबर को होना थी। लेकिन इससे पहले ही प्रचार- प्रसार न करने की शिकायत मिलनेे पर कलेक्टर ने नीलामी निरस्त करवा दी थी। अब मंडी प्रशासन ने दुकानों की नीलामी दोबारा करने का प्रस्ताव भेजा है। प्रथम तल की दुकानों की नीलामी में आने वाली राशि से ऊपरी तल पर होने वाले काम को गति दी जाएगी। इसमें दुसरी मंजिल पर होटल, ऑनलाइन किसान समाधान केंद्र सहित अन्य सुविधाओं का विस्तार किया जाएगा। नवंबर-2017 में इसका काम शुरु हुआ था और नवंबर-2019 तक काम पूरा होना है। अब 8 माह का समय प्रोजेक्ट पूरा करना है और अभी काम बाकी है।

एक ही छत के नीचे मिलेगी कृषि सामग्री
शॉपिंग मॉल में किसानों को कृषि उपयोग में आने वाली सभी सामग्री एक ही छत के नीचे मिले। इसी उद्देश्य से इस किसान मॉल का निर्माण मंडी कर रही है। इसमें लगने वाली दुकानों में खेती-किसानी से जुड़ी सभी चीजें यहीं मिल सकेगी। यानी गांव से शहर में आने वाले किसान को इधर-उधर नहीं भटकना पड़ेगा और वह इसी मॉल में से खेती से जुड़ी सभी सामग्री क्रय कर सकता ाहै। इसमें खाद, बीज,मोटर पंप, कीटनाशक दवाई सहित अन्य सामग्री शामिल है।

मंडी की आय का बड़ा स्रोत बनेगा मॉल
शहर के बीच में बन रहा किसान मॉल मंडी समिति की आय का बड़ा स्रोत होगा। चार मंजिला मॉल में 300 दुकानों के साथ एक रेस्टारेंट भी बनाया जा रहा है। प्रथम तल पर 94 दुकानें बनकर तैयार है। बेंसमेंट सहित अब तक इस प्रोजेक्ट में 12 करोड़ का काम पूरा हो चुका है। नवंबर-2019 तक 60 करोड़ का यह प्रोजेक्ट पूरा होना है। यहां महात्मा फूले की प्रतिमा लगाकर मंडी ने इसका अनावरण भी करवा लिया है।

दुकान नीलामी के लिए प्रस्ताव भेजा
शॉपिंग मॉल में बनने वाली दुकानों की नीलामी 29 दिसंबर 2018 को होना थी। शिकायत पर प्रशासन ने नीलामी निरस्त की। दोबारा नीलामी के लिए प्रस्ताव भेजा है। अनुमति मिलने के बाद नीलामी प्रक्रिया पूरी कर इसके काम को गति दी जाएगी। -ओपी शर्मा, मंडी सचिव

About The Author

I am Brajesh Arya

Related posts