Breaking News

7 वर्षीय बालिका के साथ दुष्कर्म के आरोपी को पुलिस ने किया न्यायालय में किया पेश, भेजा जेल

मंदसौर. सात वर्षीय बालिका के साथ दुष्कर्म के आरोपी कालूराम को पुलिस ने शुक्रवार को न्यायालय में पेश किया। जहां से आरोपी को जेल भेज दिया गया। वहीं गत दिवस हुए उपद्रव के मामले में पुलिस आरोपियों की तलाश में जुट गई है। कांग्रेस और मुस्लिम समाज ने घटना के विरोध में पुलिस अधीक्षक विवेक अग्रवाल और कोतवाली थाने पर सीएसपी नरेंद्र सौलंकी को ज्ञापन दिया।

तो भाजपा के प्रतिनिधिमंडल पुलिस अधीक्षक से मिला और आरोपी पर सख्त कार्रवाई की मांग की। दिनभर मदारपुरा में भारी पुलिस बल तैनात किया गया है।

थानाप्रभारी नरेंद्र सिंह यादव ने बताया कि कालूराम को न्यायालय में पेश किया। जहां से उसे जेल भेज दिया गया है। आरोपियों की तलाश की जा रही है। उपद्रव करने वाले आरोपियों को जल्द ही गिरफ्तार किया जाएगा। मदारपुरा में भारी पुलिस बल तैनात रहा। पुलिस अधीक्षक विवेक अग्रवाल और कलेक्टर धनराजू एस ने मदारपुरा में भ्रमण किया। इस दौरान वहां के रहवासियों से भी चर्चा की। दिनभर एएसपी मनकामना प्रसाद, सीएसपी सौलंकी, मल्हारगढ़ एसडीएम सहित अन्य अधिकारी भ्रमण करते रहे।

भारतीय जनता पार्टी का प्रतिनिधिमंडल जिलाध्यक्ष राजेंन्द्र सुराना और विधायक यशपाल सिंह सिसौदिया के नेतृत्व में पुलिस अधीक्षक विवेक अग्रवाल से विगत दिवस क्षेत्र में हो रही घटनाओं को लेकर मिला। विधायक सिसौदिया और जिलाध्यक्ष सुराणा ने एसपी से कहा कि मदारपुरा में हुई बलात्कार की घटना पूर्ण रूप से अमानवीय है। इसमें बलात्कार के दोषी पर कठोर से कठोर कार्रवाई हो। इसके साथ ही मदारपुरा क्षेत्र में जिस तरह से असमाजिक तत्वों द्वारा तोड़-फोड़ कर बलवा कर शहर में अराजकता की स्थिति निर्मित कर दी।

आचार सहिंता का असमाजिक तत्वों ने माखौल उड़ाया है। वह कतई उचित नहीं है। वहीं कंाग्रेस का प्रतिनिधिमंडल भी मिला। जिसमें पूर्व सांसद मीनाक्षी नटराजन, पूर्व मंत्री नरेंद्र नाहटा, जिलाध्यक्ष प्रकाश रातडिय़ा, राजेंद्र सिंह गौतम, राजेश रघुवंशी, मुकेश काला थे। प्रतिनिधिमंडल ने पुलिस अधीक्षक को ज्ञापन दिया और कठोर कार्रवाई करने की मांग की। मुस्लिम समाज ने भी अपना एक ज्ञापन कोतवाली थाने पर दिया। ज्ञापन में आरोपी का फांसी की सजा देने की मांग की। ज्ञापन देने में शहर काजी आसीफ उल्लाखां, मजहर खान सहित चार व्यक्ति उपस्थित थे। ज्ञापन में प्रकरण को फास्ट टे्रक कोर्ट में चलाकर आरोपी को फांसी की सजा दिलवाने सहित पांच मांगे की।

About The Author

I am Brajesh Arya

Related posts