Breaking News

8 साल की छात्रा का अपहरण कर हैवानियत करने वाला आरोपी गिरफ्तार

Hello MDS Android App

मंदसौर। मंदसौर में बुधवार को दिल दहलाने वाली घटना हुई। सुबह करीब 11.30 बजे बस स्टैंड के पीछे लक्ष्मण दरवाजे के पास झाड़ियों के बीच नाले किनारे एक बालिका बदहवास हालत में मिली। पुलिस के अनुसार बदमाश ने अपहरण कर बालिका के साथ दुष्कर्म किया और वहां फेंक दिया। आरोपित को देर रात पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है। आरोपी की गिरफ्तारी की खबर मिलते ही पुलिस कंट्रोल रुम पर बड़ी संख्‍या में लोग जमा हो गए थे।

इस मामले में पुलिस ने एक आरोपी इमरान उर्फ भय्यू मेव पिता जहीर खां मदारपुरा (20) को गिरफ्तार किया है। वह हम्माली करता है। एसपी मनोज कुमार सिंह ने बताया कि आरोपी नशे का आदी है। वह बालिका से पहले से परिचित नहीं है। स्कूल के बाहर बालिका को खड़ी देखकर मिठाई खिलाने के बहाने अपने साथ ले गया। वह सीधे घटनास्थल पर गया। आरोपी दो-ढाई घन्टे तक वहीं रहा। बाद में उसने चाकू से गले पर वार किया। बेहोश होने पर उसे मरी हुई समझकर छोड़कर भाग गया। आरोपी पर शहर कोतवाली में दो अपराध दर्ज है। इंदौर में बच्ची खतरे से बाहर है।

जानकारी के अनुसार 8 साल की बालिका मंगलवार शाम को जब स्कूल से नहीं लौटी तो परिजन उसे खोजने निकल पड़े। नहीं मिलने पर पुलिस में गुमशुदगी दर्ज कराई। पिता ने दोपहर में तीसरी कक्षा में पढ़ने वाली अपनी बेटी को स्कूल छोड़ा था।

बुधवार को वह झाड़ियों में पड़ी मिली। बालिका के शरीर पर जिस तरह से जगह-जगह चोट के निशान हैं, उससे साफ लग रहा है कि दरिंदे ने उसके साथ जानवरों जैसा सलूक किया। बालिका के गले और गाल पर धारदार हथियार से चोट पहुंचाई गई।

सूचना मिलते ही पुलिस मौके पर पहुंची और उसे अस्पताल पहुंचाया, जहां उसका उपचार हुआ और टांके लगाए गए। हालत गंभीर होने पर उसे इंदौर एमवायएच में रेफर कर दिया गया। इधर, रतलाम डीआईजी जितेंद्रसिंह कुशवाह मंदसौर पहुंचे और उन्होंने एसपी मनोज कुमार सिंह के साथ घटनास्थल का मुआयना किया। मौके पर पहुंचा स्निफर डॉग सड़क तक गया, फिर आगे नहीं बढ़ा।

ये है दरिंदा : पुलिस ने आसपास की दुकानों में लगे सीसीटीवी कैमरों के फुटेज भी खंगाले। स्कूल से करीब 200 मीटर की दूरी पर हजारी रोड स्थित फैशन पाइंट दुकान पर लगे सीसीटीवी कैमरे के फुटेज में बच्ची एक युवक के पीछे जाती नजर आई। फुटेज देखकर बच्ची को तो उसके ताऊ ने पहचान लिया लेकिन युवक को नहीं पहचान पाए। रात में पुलिस ने आरोपी काे पकड़ लिया। इनसेट-आरोपी युवक इरफान पिता जहीर खान।

आरोपी की गिरफ्तारी के बाद भड़के लोग सड़कों पर उतर आए। हंगामा करते हुए महाराणा प्रताप बस स्टैंड पहुंचे। यहां खड़ी एक बस के कांच फोड़ दिए। पुलिस बल पहुंचने पर और समझाइश के बाद लोग लौट गए।

एक अंकल आए, लड्डू दिया और मुझे जंगल में ले गए

दरिंदगी का शिकार हुई सरस्वती शिशु मंदिर की कक्षा तीसरी की छात्रा के साथ दो लोगों ने ज्यादती की। यह बात खुद बालिका ने इलाज के लिए मंदसौर से इंदौर ले जाते समय एम्बुलेंस में अपनी मां को बताई। बच्ची के साथ इंदौर गए उसके एक परिचित ने भास्कर को बताया बच्ची काफी डरी हुई है। दर्द के मारे बार-बार कराह उठती है। रास्ते में उसकी मां ने बात करने की कोशिश की तो बच्ची ने बड़ी मुश्किल से घटना के बारे में बताया। बालिका ने मां को बताया कि वह स्कूल के बाहर दादी का इंतजार कर रही थी। तभी एक अंकल आए। उन्होंने मुझे एक लड्‌डू खाने को दिया। लड्‌डू खाने के बाद वे मुझे जंगल ले गए। जहां एक और अंकल थे। उन्होंने मेरी गर्दन पर कटर (धारदार हथियार) रख दिया, धमकाया भी। इसके बाद दोनों अंकल ने मेरे साथ गंदा काम किया।

रात को ही हुआ इंदौर में बच्ची का ऑपरेशन

गंभीर घायल बच्ची को इंदौर के एमवाय अस्पताल में भर्ती किया गया। जहां रात 10.30 बजे डॉक्टरों की टीम ने पेरिनियल इंजुरी का ऑपरेशन किया। डॉक्टरों का कहना है बच्ची सदमे में है और उसकी हालत स्थिर बनी हुई है।

स्कूल बैग, पानी और और बीयर की बोतल मिली

लक्ष्मण दरवाजे के पास सुनसान स्थल से बच्ची का स्कूल बैग, पानी और और बीयर की बोतल को पुलिस ने बरामद कर लिया है। इधर, माली समाज के लोगों ने आक्रोश जताते हुए आरोपी की शीघ्र गिरफ्तारी की मांग को लेकर ज्ञापन भी सौंपा ।

…लौटने पर वह नहीं दिखी

स्कूल के एक शिक्षक ने बताया कि मंगलवार शाम 5 बजे बच्चों की छुट्टी हुई। इस दौरान बालिका नजर आई थी, लेकिन मैं थोड़ी देर के लिए वहां से हटा और लौटने पर बालिका नहीं दिखी।

Posted by Hello Mandsaur.Com on Wednesday, 27 June 2018

About The Author

I am Brajesh Arya

Related posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *