Breaking News

800 करोड़ रूपए की उद्वहन सिंचाई योजना को हरी झंडी : मंदसौर संसदीय क्षैत्र

Story Highlights

  • संसदीय क्षैत्र को मिला तीन साल पूर्ण होने का बड़ा तोहफा
  • 40 हजार हेक्टेयर में सिंचाई वाली बहुप्रतीक्षित योजना की प्रशासकीय स्वीकृति जारी
  • संसद श्री सुधीर गुप्ता के अथक प्रयासों को मिला परिणाम, माना मुख्यमंत्री का आभार

मंदसौर/भोपाल। लोकसभा चुनाव में विजय के तीन वर्ष पूर्ण होने के अवसर पर मंदसौर संसदीय क्षैत्र को विकास का एक बड़ा तोहफा प्राप्त हुआ है। सिंचाई और पेयजल की दृष्टि से अतिमहत्वपूर्ण और बहुप्रतिक्षित 800 करोड़ की एक विशाल योजना को मध्यप्रदेश सरकार से मंजूरी प्राप्त हो गई है। सांसद श्री सुधीर गुप्ता इस योजना को मंजूरी दिलाने के लिए लगातार प्रयासरत थे। आपने लगातार इसको लेकर अधिकारियों एवं भोपाल स्तर पर चर्चा की थी। मंगलवार को इस योजना की प्रशासकीय स्वीकृति जारी की गई। इस योजना को मंजूरी मिलने पर सांसद श्री सुधीर गुप्ता ने मुख्यमंत्री श्री शिवराजसिंह चैहान का आभार व्यक्त किया। यह योजना विकास के नए द्वार खोलने वाली साबित होगी।
चम्बल के पानी से खेतों में सिंचाई एवं इसका उपयोग पेयजल के लिए किए जाने के सांसद श्री सुधीर गुप्ता के स्वपन लगातमार हकीकत में तब्दील हो रहे हैं। चम्बल के पानी से खेतों में सिंचाई किए जाने की भानपुरा में प्रगतिरत योजना के बाद अब इसके अगले चरण को मंगलवार को मंजूरी मिल गई। जल संसाधन विभाग द्वारा करीब 800 करोड़ रूपए की शामगढ़-सुवासरा उद्वहन सिंचाई परियोजना को स्वीकृत कर दिया गया। मुख्यमंत्री श्री शिवराजसिंह चैहान द्वारा इस योजना को स्वीकृति देकर संसदीय क्षैत्र के विकास के लिए एक बहुत बड़ी सौगात दी गई है। इस योजना में 40 हजार हेक्टेयर भूमि में सिंचाई की जा सकेगी।
इस प्रोजेक्ट में आवरा गांव में लिफ्टििंग पाईंट तैयार किया जाएगा।  इसके तहत 189 गांव लाभान्वित होंगे, इनमें गरोठ तहसील के 72, शामगढ़ तहसील के 67 एवं सुवासरा तहसील के 50 गांव शामिल हैं। इसके अलावा इसी योजना में 45 एमसीएम पानी का प्रावधान भी रखा गया है। यह पानी मंदसौर एवं रतलाम जिले के करीब 830 गांवों को चम्बल का पेजयल उपलब्ध करवाने वाली पेयजल योजना के लिए रखा जाएगा। इसी योजना में गोपालपुरा तालाब में स्टोर किए जाने हेतु प्रावधान किया गया है। इस एक योजना की स्वीकृति संसदीय क्षैत्र के लिए बड़े विकास और किसानों के लिए अत्यंल लाभप्रद साबित होगी।
यहां यह उल्लेख करना आवश्यक है कि सांसद श्री गुप्ता ने इस योजना को लेकर सतत माॅनीटरिंग करते हुए इसकी स्वीकृति के लिए सतत प्रयास किए हैं। आपने मुख्यमंत्री श्री शिवराजसिंह चैहान को इसकी महत्ता के संबंध में अवगत करवाते हुए इस योजना को स्वीकृति का आग्रह किया था, जिस पर मंगलवार को मुख्यमंत्री श्री चैहान के नेतृत्व में योजना को हरी झंडी प्राप्त हुई।
योजना बदलेगी तस्वीर, मुख्यमंत्रीजी का आभार
यह योजना हमारे संसदीय क्षैत्र की महत्वाकांक्षी योजनाओं में से एक है। इस योजना से सिर्फ एक जिले नहीं बल्कि समूचे संसदीय क्षैत्र को लाभ होगा। इस योजना से 189 गांवों को सिंचाई के लिए जल उपलब्ध होगा, साथ ही इसी योजना के तहत चम्बल पेयजल योजना हेतु पानी संग्रहित किए जाने का प्रावधान भी किया गया है। जो मंदसौर-रतलाम दोनों जिलों के 830 गांवों के लिए तैयार की गई है। मैं मुख्यमंत्री श्री शिवराजसिंह चैहान के प्रति कृतज्ञता ज्ञापित करता हूं। उन्होंने इस योजना को प्रशासकीय मंजूरी दिलवाकर संसदीय क्षैत्र को बड़ी सौगात प्रदान की है।

About The Author

I am Brajesh Arya

Related posts