Breaking News

Cashless India की जरूरत क्‍यो?

भ्रष्टाचार / Corruption से लड़ने के लिए हमारे भारत देश के प्रधानमन्त्री नरेंद्र मोदी / PM Narendra Modi ने नोटबंदी यानि 500 और 1000 रूपये के पुराने नोट बंद करने का जब से एलान किया है तब से लोगो को कही न कही रूपये न मिलने के कारण कई प्रकार के दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है ऐसे Cash की समस्या को देखते हुए लोगो ने अब ऑनलाइन पेमेंट / Online Payment, डेबिट कार्ड / Debit Card, क्रेडिट कार्ड / Credit Card, रुपेकार्ड / Rupaycard, ई-वालेट / E-Wallet और विभिन्न प्रकार के मोबाइल एप्प जैसे Paytm, Freecharge का सहारा ले रहे है ऐसे में अब इन सभी सभी साधनो का उपयोग कैसे करते है इसे जानना जरुरी हो जाता है

गो कैशलेस! ये हमारी जिंदगी का एक नया तरीका बनने लगा है, और इससे आपके लेन-देन के तौर तरीके पूरी तरह बदल जाएगें। आज योर मनी पर हमारा फोकस है ई वॉलेट्स पर। हम आपको समझाएंगें, ये क्या होते हैं, कैसे इनका इस्तेमाल करें, हम करेंगें बरीकी से चर्चा। साथ ही जानेंगे नोटबंदी के बाद अब कैशबंदी, क्या हैं कैशलेस लेनदेन के आसान और सुरक्षित तरीके और कैशलेस लेनदेन में क्या सावधानी बरतें।

ई-वॉलेट, पैसों के लेन-देन का आसान और सुरक्षित तरीका होता है। प्रीपेड अकाउंट जिसमें पैसे जमा कर लेनदेन कर सकते हैं। इसमें बैंक खाते की जानकारी हर जगह देने की जरूरत नहीं होती है और कुछ वॉलेट्स में कम से कम 10 भी रख सकते हैं। इसमें भुगतान नामंजूर होने की संभावना कम होती है। हालांकि इसमें थोड़े जोखिम भी है अगर आप वॉलेट का पासवर्ड पता होने पर चोरी का खतरा होता है। और पैसे रिफंड नहीं होते।

पेटीएम, ऑक्सीजन वॉलेट, सिट्रस, फ्रीचार्ज के तहत वॉलेट में पैसे जमाकर लेन-देन किया जा सकता है। यह कूपन आधारित लेनदेन कह सकते है। इसके तहत पैसे का लेनदेन भी मुमकिन होता है। ऑनलाइन शॉपिंग, कंपनी का शॉपिंग पोर्टल भी किया जा सकता है। मोबाइल, डीटीएच, मेट्रो स्मार्ट कार्ड रीचार्ज कर सकते है और बिजली, गैस, फोन और दूसरे बिलों का भी भुगतान आसानी से किया जा सकता है। कई रिटेलर्स के साथ डिस्काउंट का करार भी किया जा सकता है।

तीन तरह के मोबाइल पेमेंट वॉलेट होते है। जिनमें क्लोज्ड, सेमी-क्लोज्ड, ओपन शामिल है। सेमी क्लोज्ड सबसे लोकप्रिय है। पेटीएम, फ्रीचार्ज, मोबीक्विक सेमी क्लोज्ड वॉलेट की सुविधा देता है। इसके जरिए अलग-अलग सामान, सर्विस का भुगतान किया जाता है। पेमेंट वॉलेट से ऑनलाइन शॉपिंग की जा सकती है। इसमें वोडाफोन एम-पैसा ओपन वॉलेट, एम-पैसा से पैसे निकाल सकते हैं।

यूनिफाइड पेमेंट इंटरफेस (यूपीआई) मोबाइल के जरिए पैसे का लेनदेन किया जाता है। इसमें वर्चुअल मोबाइल एड्रेस का इस्तेमाल किया जाता है। मोबाइल नंबर या आधार के जरिए लेनदेन की जा सकती है। इसमें लेनदार के बैंक अकाउंट की जरूरत नहीं होती है। यह लेनदेन का बेहद सुरक्षित तरीका है और अभी तक
23 बैंकों में यूपीआई की सुविधा मिल रही है।

ऑनलाइन बैकिंग के लिए अपने बैंक की साइट से पेमेंट करना चाहिए। ऑनलाइन बैकिंग के तहत मनी ट्रांसफर, बिल पेमेंट की सुविधा, ऑनलाइन शॉपिंग, टिकट बुकिंग, ऑनलाइन बैकिंग पर रजिस्ट्रेशन जरूरी होता है और यूजरनेम, पासवर्ड जरुरी होता है।

डेबिट/क्रेडिट कार्ड के जरिए स्वाइप मशीन पर पेमेंट की सुविधा मिलती है और एटीएम से कैश निकालने की सुविधा उपल्ब्ध है। वहीं ऑनलाइन शॉपिंग की सुविधा भी उपल्ब्ध है। पीओएस से भी 2000 कैश निकाल सकते हैं। अब हमे बटुए रखने की जरूरत नही है अब हमारा मोबाइल ही हमारा बैंक ब्रांच बन चूका है इसका उपयोग करना सभी नौजवान अपने आस पास के लोगो को भी सिखाये – नरेंद्र मोदी / Narendra Modi

ऐसे में हम उन देशो का नाम भी आप सबको बता रहे है जो की आज के समय में उनके देश में नकद यानि Cash में लेनदेन नाममात्र का होता है वहा की पूरी अर्थव्यवस्था पूरी तरह से Cashless हो चुकी है जिसके कारण उन देशो में भ्रष्टाचार पर भी बहुत अच्छे तरह से नियन्त्रण लगा है

विश्व के 5 बड़े नोटरहित देश / Top 5 Cashless Country In Hindi –
आईये जानते है विश्व के वे 5 वो देश जो की Cashless Payment में Top 5 Cashless Country माने जाते है

1 – स्वीडन / Sweden – 97% Cashless
मतलब स्वीडन में 3% ही Currency में Payment होता है बाकि Payment पूर्णरूप से अनेक प्रकार के ऑनलाइन तरीको से किया जाता है

2- बेल्जियम / Belgium – 93% Cashless
बेल्जियम का कैशलेस पेमेंट में विश्व में दूसरा स्थान है

3 – फ्रांस / France – 92% Cashless
फ्रांस भी अपनी तकनीकी सहायता से Cashless Payment की दिशा में बहुत ही तेजी से बढ़ता हुआ देश है और इसका Cashless Payment और Online Payment करने में तीसरा स्थान है

4 – कनाडा / Canada – – 90% Cashless
फ्रांस के बाद कैशलेस भुगतान में कनाडा का चौथा स्थान आता है

5 – ब्रिटेन / Briten – 89% Cashless
ब्रिटेन भी अपनी विकसित टेक्नोलॉजी की बदौलत विश्व के Top Five Cashless Country में 5वा स्थान रखता है

और भारत / India – – 14% Cashless यानी 86% आज भी सारी लेनदेन Cash में होता है यानी हमारे देश भारत में नाममात्र का ही Online Payment किया जाता है जो की बहुत ही सोचनीय है

अब सभी यही सोच रहे होंगे की Cashless होने के क्या फायदे है तो सबसे पहले हमे ये जान लेना चाहिए की इन नोटों को छापने के लिए भी हमारे अरबो खरबों रुपयों का नुकसान होता है जो इसमें कागज प्रयोग होता है वो भी कागज हमे इन पेड़ो से ही मिलता है ऐसे में नोटों के न होने से इन पेड़ो की कटाई भी रुक जायेगी, दूसरा सबसे बड़ा फायदा हमे यह है की हमे अपने पैसो की हिफाजत करने की चिंता से मुक्ति मिल जायेगी क्यू की खातो में पैसे रखने से हमारे पैसो की हमेसा सुरक्षा बनी रहती है

अब जानते है ऑनलाइन कैशलेस पेमेंट / Cashless Payment Karne ke Tarike के बारे में

डेबिट कार्ड / Debit Card –
आजकल हर बैंक अकाउंट / Bank Account खुलवाने पर ATM से पैसे निकालने के लिए बैंको द्वारा Debit Card दिया जाता है जिसका उपयोग हम Cashless Payment के रूप में भी कर सकते है इस विधि के लिए हमारे पास बैंक में हमारा Account होना चाहिए फिर इसके बदले में मिलने वाले Debit Card का उपयोग हम जब भी कही ऑनलाइन पेमेंट करते है तो इसके लिए हमे सिर्फ Debit Card और इसका Password याद रखना होता है और जब भी कही हम Shopping करते है तो वहा लगी स्वाइप मशीनो / Swipe Machine के द्वारा हम अपना पेमेंट खुद से कर सकते है लेकिन हमे इस बात का ध्यान रखना चाहिए की अपना Password खुद से टाइप करे न की बताकर. इससे हमारे अकाउंट में रखे पैसो की सुरक्षा बनी रहती है इसके अतिरिक्त Debit Card का उपयोग अपने घर बैठे ऑनलाइन पेमेंट जैसे बिजली, Dish Recharge, Mobile Recharge, Online Shopping और अन्य सभी भुगतान के रूप में जो Online Payment लेते है उनमे कर सकते है

क्रेडिट कार्ड / Credit Card –
अक्सर लोगो के मन में Credit Card और Debit Card को लेकर दुबिधा बनी रहती है की आखिर दोनों में फर्क क्या है तो सबसे पहले हमे जान लेना चाहिए की Debit Card हमारे खाते में रखे पैसो के निकालने के दिया जाता है जबकि Credit Card Processing हम बैंको द्वारा एक तरह से लोन दी जाने वाली राशी है जो पर Credit Card Payment Gateway के लिए एक Amount निश्चित किया जाता है जिसका उपयोग हम निर्धारित समय में कर सकते है फिर इन पैसो का उपयोग करने के बाद हम Credit Card का Payment करना होता है तो Debit Card की तरह Credit Card का भी ऑनलाइन पेमेंट के रूप में किया जाता है

ई-वालेट / E-Wallet –
पहले लोग वॉलेट यानि बटुए को अपने पॉकेट में रखते थे लेकिन आजकल इसी बटुए को अब मोबाइल में भी रख सकते है जिसे ई-वालेट / E-Wallet कहते है इसके लिए हमारे पास खुद का एक बैंक अकाउंट होना जरुरी है और अपने बैंक अकाउंट के साथ अगर Intennetbanking का प्रयोग करते है तो हमारे लिए और भी अच्छा है

ई-वालेट / E-Wallet के लिए हमारे पास एक Smartphone के साथ उसमे Net Connectivity यानि Interent Facility भी होना जरुरी है जो आजकल लगभग सभी युवाओ के पास होता है तो अपने मोबाइल के Playstore में जाकर हमे Paytm, Freecharge, Mowikwik, Novapay या Payumoney जैसे App Download कर सकते है जिनके द्वारा इनमें से किसी App को Activate करने के बाद हमारा मोबाइल एक चलता फिरता बैंक या ई-वालेट / E-Wallet के रूप में तैयार है

तो आप जिस क्षेत्र में रह रहे है वहा पर पता करे की लोग कौन सा App ज्यादा Use कर रहे है उसके हिसाब से अपना ई-वालेट / E-Wallet Activate करे

तो आप सबको इस समय सबसे ज्यादा Use होने वाले Paytm के बारे में बताएँगे

PAYTM क्या है PAYTM KARO, PAYTM KYA HAI / PAYTM DETAILS IN HINDI –
आजकल टीवी में Paytm Karo वाला प्रचार खूब सुनते है Paytm नोटबंदी के बाद सबसे अधिक उपयोग किया जाने वाला Mobile App बन चुका है हर गली चौराहे चायवाले से लेकर बड़े बड़े दुकानदार इसका उपयोग कर रहे है तो Paytm का उपयोग कैसे करते है ये जानना जरुरी हो जाता है

Paytm एक Mobile App Application है जिसकी सहायता से पहले अपना Mobile Recharge करते थे लेकिन 2016 में Paytm E-Commerce Company बन गयी है जिसकी सहायता से अब हम इसमें अपना पैसा Online रख सकते है

Paytm Kaise Use Kare / Paytm कैसे उपयोग करे / Paytm Kaise Karte Hai / Paytm Kaise Use Kare In Hindi–
1. Paytm एक ऐसा Mobile App बनाया गया है जिसको हर कोई आसानी से समझ सकता है इसके लिए सबसे पहले अपने मोबाइल में आप Paytm App Download कर ले।
2. Paytm Download करने और Paytm में Id बनाने के लिए नीचे दिए गये लिंक पर क्लिक करे –
3. PAYTM पर ID बनांने के लिए CLICK क्लिक करे
4. PAYTM APP DOWNLOAD करने के CLICK लिए करे
5. इसके बाद अब अपने Mobile Number द्वारा Paytm में अपना Account बना ले इसके बाद Paytm App के अंदर ढेरो सारे Option देखने को मिलेगे जिसमे My Wallet Option भी दिखाई देगा जिसमे हम अपने Debit Card, Credit Card या Internetbanking से Add Money Option से जितना चाहे उतना पैसा जमा कर सकते है नोटबंदी के चलते Paytm की जमा करने की Paytm Wallet Amount अब बढाकर 20000 रूपये कर दी गयी है यानी अब हम Paytm में 20000 रूपये तक जमा कर सकते है।
6. इसके बाद जब आपके Paytm के Wallet में पैसे Transfer कर लेते है तो अब हमारा Paytm Online Payment के लिए तैयार है अब चाहे आप कही भी जाए तो तो कौन सा दुकानदार Paytm Use करता है या तो खुद पूछ सकते है या फिर इसके लिए खुद आपका Paytm आपकी Help करेगा इसके लिए आपको Paytm के Paytm Nereby Option में जाए फिर Location Details से उस Area की सभी Paytm Use करने वालो सभी दुकानों की List आपके मोबाइल फोन में होगी जिससे आप आसानी से Shopping कर सकते है।
7. Paytm के सबसे बड़े दो फायदे यही है पहला एक तो इसके उपयोग में किये गये पैसे के लिए कोई हमे Surcharge नही देना पड़ता है और दूसरा सबसे बड़ा फायदा यह है की Paytm द्वारा हमारे उपयोग के उपर Paytm Cashback भी मिलता है यानी हमे इसका उपयोग करने पर कुछ धनराशी भी Paytm द्वारा हमारे Wallet में दिया जाता है और इसके अलावा Paytm Promo Code / Paytm Offers / Paytm Coupons/ Paytm Recharge / Paytm App द्वारा भी बहुत सारी छुट प्राप्त कर सकते है।
8. जब चाहे तब Paytm में जमा पैसे को किसी बैंक में न जाकर खुद से अपने Bank Account में Transfer कर सकते है।

तो आप सभी को Cash की समस्या के चलते Cashless और Online Payment के बारे में बताये गये Online Payment kaise Kare पोस्ट कैसा लगा या इससे सम्बन्धित कोई आप जानकारी चाहते है तो जरुर पूछे और अपनी राय भी जरुर दे।

About The Author

I am Brajesh Arya

Related posts