Breaking News
संपादकीय

चुनावी भाषण नेताओं के विवेक पर प्रश्नचिन्ह

चुनावी भाषण नेताओं के विवेक पर प्रश्नचिन्ह
कर्नाटक चुनावों में नेताओं के भाषण, गरिमा के एक और निचले पायदान पर खिसक गये | उपमा के प्रतिमान अब कौवे- कुत्ते तक उतर आये | मालूम नहीं ऐसे में कैसा देश  शेष बचेगा | चुनाव...
Read more

समस्त सामाजिक संगठनों के साथ प्रतिदिन एक घण्टा श्रमदान में जिला प्रशासन मुखिया कलेक्टर का सहभागी होना प्रेरणादायक उत्कृष्ट उदाहरण

समस्त सामाजिक संगठनों के साथ प्रतिदिन एक घण्टा श्रमदान में जिला प्रशासन मुखिया कलेक्टर का सहभागी होना प्रेरणादायक उत्कृष्ट उदाहरण
शिवना शुद्धी के पवित्र अभियान में सबको सहभागी बनकर पुण्य लाभ लेना चाहिये-बंशीलाल टांक प्रदेश के माननीय मुख्यमंत्री श्री शिवराजसिंहजी चौहान के आव्हान पर प्रदेश की नदियों क...
Read more

शिवना – नहीं मांगेगी आपसे कुछ, आपको ही देना होगा

शिवना - नहीं मांगेगी आपसे कुछ, आपको ही देना होगा
सदियों से प्रवाहमान हमारी शिवना जिसने भूतभावन भगवान पशुपतिनाथ महादेव की अद्भुद, अद्वितीय प्रतिमा को अपने आंचल में सैंकडों वर्षों तक सुरक्षित रखा, संरक्षण दिया। हम सब प्रत...
Read more

बहिष्कार करने वाले कलाकारों को अयोग्य घोषित करना चाहिये

बहिष्कार करने वाले कलाकारों को अयोग्य घोषित करना चाहिये
नई दिल्ली में आयोजित राष्ट्रीय फिल्म पुरस्कारों के वितरण कार्यक्रम में 55 राष्ट्रीय पुरस्कार विजेता जानबूझकर अनुपस्थित रहे इस तर्क के साथ कि सभी विजेताओं को राष्ट्रपति रा...
Read more

अलीगढ मुस्लिम विश्वविद्यालय में जिन्ना की तस्वीर क्यों लगी रहनी चाहिये?

अलीगढ मुस्लिम विश्वविद्यालय में जिन्ना की तस्वीर क्यों लगी रहनी चाहिये?
अलीगढ मुस्लिम विश्वविद्यालय के यूनियन हॉल में लगी मोहम्मद अली जिन्ना की तस्वीर हटाने पर हुए विवाद में दो छात्रों की मृत्यु हो गई और कई घायल हो गए। समाचार मिलने के बाद से...
Read more

नैतिकता को छोड़ देश जिस प्रकार तेजी से पापाचार की ओर बढ़ा है, उसे रसातल में जाने से बचाना है तो समाज को आगे आना होगा

नैतिकता को छोड़ देश जिस प्रकार तेजी से पापाचार की ओर बढ़ा है, उसे रसातल में जाने से बचाना है तो समाज को आगे आना होगा
जानवरों से बदतर हो गया है भगवान की श्रेष्ठ कृती होने का दम्भ भरने वाला आज का इन्सान और वह भी संस्कृति प्रधान भारत में-बंशीलाल टांक मन्दसौर। सभी जानते है कि संसार में जीवध...
Read more

नेताओं के बोल और व्यवहार बनाम मीडिया सम्पादकों की विवशता

नेताओं के बोल और व्यवहार बनाम मीडिया सम्पादकों की विवशता
मध्यप्रदेश के मीडिया में भारतीय जनता पार्टी के नव नियुक्त प्रदेशाध्यक्ष राकेश सिंह द्वारा मीडिया के बारे में की गई टिप्पणी चर्चित है | इलेक्टानिक मीडिया पर उपलब्ध घटना के...
Read more

प्रेस और पुलिस का परस्पर सामंजस्यात्मक संबंध सहायक सिद्ध होगा पब्लिक हितों में- वरिष्ठ पत्रकार डॉ. घनश्याम बटवाल का पुलिस प्रशासन मंदसौर ने किया बहुमान-बंशीलाल टांक

प्रेस और पुलिस का परस्पर सामंजस्यात्मक संबंध सहायक सिद्ध होगा पब्लिक हितों में- वरिष्ठ पत्रकार डॉ. घनश्याम बटवाल का पुलिस प्रशासन मंदसौर ने किया बहुमान-बंशीलाल टांक
वर्तमान परिवेश में देश आतंकवाद, महिलाओं के साथ बलात्कार, राजनैतिक गलियारों की सियासत से जिन विषम परिस्थितियों के दौर से गुजर रहा है उससे उबारने मे यदि कही आशा की कोई किरण...
Read more

सुखी दांपत्य जीवन के लिए जरूरी है ये

सुखी दांपत्य जीवन के लिए जरूरी है ये
मैं हमेशा एक शिकायत सुनता हूं, “हम छोटी-छोटी बातों पर झगड़ते रहते हैं। हर बात पर बहस हो जाती है।” इन झगड़ों का मुख्य कारण केवल अहंकार है। झगड़े के दौरान पति और पत्नी दोनों अ...
Read more

उस दिन भारतीय नववर्ष मनाना सचमुच सार्थक हो जाएगा जिस दिन इस पवित्र वसुन्धरा पर गौ हत्या का कलंक मिटकर रक्त की एक बूंद भी नहीं गिरेगी-बंशीलाल टांक 

उस दिन भारतीय नववर्ष मनाना सचमुच सार्थक हो जाएगा जिस दिन इस पवित्र वसुन्धरा पर गौ हत्या का कलंक मिटकर रक्त की एक बूंद भी नहीं गिरेगी-बंशीलाल टांक 
किसी भी शुभ कार्य-नवपर्व-नववर्ष पर एक दूसरे को मंगल बधाई-शुभ कामना प्रेषित करना कितना अच्छा लगता है। वायु की तरह कभी आंखों से नहीं दिखाई देेने वाले केमरे के परदे में कैद...
Read more

नरेंद्र मोदी के लिए दोबारा सत्ता में आना आसान नहीं होगा

नरेंद्र मोदी के लिए दोबारा सत्ता में आना आसान नहीं होगा
पूर्वोत्तर में जीत पर देशभर में जश्न मनाने वाली बीजेपी को 10 दिन बाद तगड़ा झटका लगेगा इसका अंदाजा पार्टी के दिग्गजों को भी नहीं होगा। यूपी और बिहार में हुए उपचुनाव में मि...
Read more

दुनिया में धर्म के नाम पर ही होती हैं सर्वाधिक अमानवीय घटनाएँ

दुनिया में धर्म के नाम पर ही होती हैं सर्वाधिक अमानवीय घटनाएँ
केंद्रीय मानव संसाधन विकास राज्यमंत्री सत्यपाल सिंह ने हाल ही में डार्विन के सदियों से प्रचलित विकासवाद के सिद्धांत को गलत करार देने तथा महान वैज्ञानिक सर आइजक न्यूटन से...
Read more

मोदी का जादू कायम, काश राष्ट्र सेकुलरिज्म की राह पर वापस आये

मोदी का जादू कायम, काश राष्ट्र सेकुलरिज्म की राह पर वापस आये
मेरे मन में हरदम यह सवाल आता था कि हमने कहां गलती की। सेकुलर संविधान को अक्षरशः अपनाने के बाद हम ऐसी भूमि में भटकते रहे जिसमें पत्थर का हर टुकड़ा विविधता के रास्ते में बा...
Read more

सत्ताधारी पार्टी के करीबियों को दिये जाते रहे हैं राष्ट्रीय पुरस्कार

सत्ताधारी पार्टी के करीबियों को दिये जाते रहे हैं राष्ट्रीय पुरस्कार
मैं अब वह उत्साह नहीं पाता हूं जो पहले गणतंत्र दिवस पर दिखाई दिया था। मुझे याद है कि किस तरह इंडिया गेट जाने वाले राजपथ, जहां सेना, नौ सेना, वायु सेना के लोगों तथा सशस्त्...
Read more

देश में एक साथ चुनाव कराने का विचार तो अच्छा है पर अमल कैसे हो

देश में एक साथ चुनाव कराने का विचार तो अच्छा है पर अमल कैसे हो
भारत में क्या लोकसभा और राज्यों की विधानसभाओं के चुनाव एक साथ होने चाहिए। इस सवाल को अब फिर से हवा मिली है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने एक हालिया इंटरव्यू में इस बात को...
Read more