Breaking News

EE PWD और CMO नपा मंदसौर को मिलेगा शो काॅज नोटिस- श्री पशुपतिनाथ मंदिर प्रबंधन समिति की बैठक सम्पन्न

Story Highlights

  • पशुपतिनाथ मंदिर में 9 जुलाई से 7 अगस्त तक होगा मनोकामना अभिषेक

मंदसौर 29 जून 17/ अष्ठमुखी भगवान श्री पशुपतिनाथ मन्दिर में श्रावण मास एवं मनोकामना अभिषेक के आयोजन की व्यवस्थाओं पर विमर्श के लिए आज कलेक्ट्रेट में मंदिर प्रबंधन समिति की एक अहम बैठक सम्पन्न हुई। बैठक की अध्यक्षता कलेक्टर श्री ओमप्रकाश श्रीवास्तव ने की। बैठक में अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक श्री सुन्दर सिंह कनेश, अनुविभागीय अधिकारी मन्दसौर एवं पदेन सचिव श्री पशुपतिनाथ मंदिर प्रबंधन समिति श्री एनएस राजावत, मंदिर प्रबंधन समिति के सदस्यगण श्री अरूण शर्मा, श्री राजेन्द्र अग्रवाल, श्री प्रहलाद काबरा, श्री सुशील गुप्ता, श्री योगेश गुप्ता, मंदिर के एडवोकेट श्री गोपालकृष्ण शर्मा, श्री सुशील अगवाल (उदयपुर) सहित अन्य अधिकारी भी उपस्थित थे।

बैठक में यह तय किया गया कि गत वर्षो की तरह इस वर्ष भी आगामी श्रावण मास में 9 जुलाई से 7 अगस्त तक श्री पशुपतिनाथ मंदिर परिसर में प्रबंधन समिति द्वारा मनोकामना अभिषेक का आयोजन किया जायेगा। कलेक्टर श्री श्रीवास्तव ने कहा कि मनोकामना अभिषेक कार्यक्रम में जिला व पुलिस प्रशासन हर संभव सहयोग करेगा। निर्णय लिया गया कि इस बार भी मनोकामना अभिषेक गायत्री परिवार मंदसौर द्वारा ही किया जायेगा। मनोकामना अभिषेक पूर्णतः निःशुल्क रहेगा। मनोकामना अभिषेक में खर्च होने वाली राशि मनोकामना अभिषेक समिति वहन करेगी। मनोकामना अभिषेक का व्यापक प्रचार प्रसार किया जायेगा, जिससे अधिक से अधिक श्रृद्वालु इससे जुड सकें। मनोकामना अभिषेक में सभी समाजों, सामाजिक संस्थाओं, विद्यालयों व आमजनों की भागीदारी सुनिश्चित की जायेगी।

बैठक में सुझाव आया कि जिले की पहचान बन चुके धार्मिक महत्व के इस सालाना आयोजन का व्यापक प्रचार-प्रसार किया जाये। कलेक्टर श्री श्रीवास्तव ने कहा कि मनोकामना अभिषेक गतवर्षो की परम्परानुसार ही कराया जायेगा। मनोकामना अभिषेक के प्रचार-प्रचार के लिए हर सम्भव तरीके अपनाएं जायेंगे। बैठक में मौजूद समिति के सभी सदस्यों ने भी मनोकामना अभिषक के सफल आयोजन के लिए अपने-अपने सुझाव दिये।

बैठक में मन्दिर परिसर में स्थित बन्द फव्वारा श्रावण मास हेतु एक महीने के लिए चालू करने का निर्णय लिया गया। मंदिर के दोनो द्वार भी श्रावण मास के दौरान खुले रहेंगे। बैठक में अतिथिगृह की एक दिन की बुकिंग निरस्त होने पर उसके किराये की राशि 21 हजार रूपये में से 2 हजार रूपये काटकर शेष 19 हजार रूपये का भुगतान संबंधित को करने पर सहमति बनी। आईन्दा के लिए यह तय किया गया कि यदि बुकिंग यदि आयोजन के सात दिन पहले कैंसिल हुई तो 50 प्रतिशत राशि काटी जायेगी और यदि कार्यक्रम तिथि कोे कैंसिल हुई तो कोई राशि वापस नही की जायेगी। बैठक में मन्दिर परिसर में ही स्थित अन्य देव प्रतिमाओं के लिये भी चांदी के 12 मुकुट बनवाने का निर्णय भी समिति द्वारा लिया गया। इस हेतु टेंडर आमंत्रित किये जायेंगे। बैठक में वित्त वर्ष 2017-18 हेतु मन्दिर के सालाना बजट का अनुमोदन भी किया गया। जिला कोषालय अधिकारी मन्दसौर एवं पदेन कोषाध्यक्ष श्री पशुपतिनाथ मंदिर प्रबंधन समिति श्री बीएम सुरावत ने बताया कि वित्त वर्ष 2017-18 में समिति को 1 करोड 72 लाख 14 हजार रू की आय संभावित है।

बैठक में अनुपस्थित रहने पर ईई पीडब्ल्यूडी और सीएमओ नपा मंदसौर को मिलेगा शो-काॅज नोटिस श्री पशुपतिनाथ मंदिर प्रबंधन समिति जैसी अहम बैठक में बिना पूर्व अनुमति लिये अनुपस्थित रहने और अपने अधीनस्थ अधिकारियों को बैठक में भेज देने पर सख्त नाराजगी व्यक्त कर कलेक्टर श्री श्रीवास्तव ने ईई पीडब्ल्यूडी श्री मण्डराय और सीएमओ नगर पालिका मंदसौर श्रीमती प्रधान को कारण बताओ नोटिस जारी करने के निर्देश समिति सचिव श्री राजावत को दिये।

श्री मंडोवरा को दी श्रृद्वांजलि
बैठक के अंत में समिति द्वारा गायत्री परिवार मंदसौर के वरिष्ठ पदाधिकारी एवं समिति के सदस्य श्री स्व. श्री निर्मल मंडोवरा के हाल ही में निधन पर दो मिनट मौन रखकर मृतात्मा को श्रृद्वांजलि दी गई।

About The Author

I am Brajesh Arya

Related posts