Breaking News

स्वच्छता सर्वेक्षण 2018 में मंदसौर ने देश में 24 वा प्रदेश में 6 वा स्थान प्राप्त किया

Hello MDS Android App

मंदसौर इंदौर में शनिवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के कार्यक्रम के साथ-साथ स्वच्छता सर्वेक्षण 2018 की टॉप 100 शहरों की सूची भी जारी कर दी गई है। जिसमें मप्र के कुछ शहरों के नाम आए है, जबकि अधिकांश शहरों के नाम इस लिस्ट से बाहर है। इस सूची में मध्यप्रदेश से मंदसौर २४, खरगौन १५वें, उज्जैन १७वें नंबर और सिंगरौली २३ और जबलपुर २५ वें नंबर पर आया है। यह सूची एक लाख से ज्यादा आबादी वाले शहरों की है। नीमच को ७० और रतलाम ७२ वें नम्बर पर आया है। इससे पहले इंदौर बना देश का सबसे स्वच्छ शहर बन चुका था, जबकि मप्र के ही भोपाल को मिला दूसरा स्थान मिला था, चंडीगढ़ रहा तीसरे स्थान पर।

२०१७ में हुए स्वच्छता सर्वेक्षण में मंदसौर का ७४ वा स्थान था इस एक वर्ष में मंदसौर ने ५० स्थानों की लम्बी छलांग लगाई है.

स्वच्छता सर्वेक्षण 2018 की रैंकिंग का दूसरा चरण 23 जून को लांच किया गया। इसके पहले अवार्ड जारी किए जा चुके थे। टॉप 100 स्वच्छ शहरों की सूची में मप्र के इंदौर और भोपाल तो टॉप पर है ही। इसके अलावा कुछ और शहरों के नाम इस सूची में आए है।

जनवरी से मार्च तक ४२०३ शहरों में प्रतिस्पर्धा चली : ४ जनवरी से १० मार्च तक चले विश्व के सबसे बड़े सर्वेक्षण में ४२०३ शहरों के बीच सबसे स्वच्छ शहर बनने की प्रतिस्पर्धा चली। ९४००० घरों में डोर टू डोर कचरा कलेक्शन की जांच हुई। ४६००० आवासियों क्षेत्र पर ओचक निरीक्षण किया गया। २८००० व्यवसायिक क्षेत्रों का निरीक्षण हुआ। २५००० स्कूलों में स्वच्छता समीती की जांच की गई। २५००० प्रोसेसिंग प्लांट का निरीक्षण किया गया। ३७.६६ लाख लोगों की राय ली गई। ५३.५८ लाख स्वच्छता ऐप डाउनलोड हुई। जनता ने १.१८ करोड़ शिकायतें दर्ज कराई। ६३ सर्वेक्षकों की टीम ने इस पूरे सर्वेक्षण को अंजाम दिया। स्वच्छ सर्वेक्षण २०१८ कड़ी है उस शहरों को स्वच्छ बनाने के उस मुहिम की जिसका आगाज २०१६ में हो गया था। शहरों के बीच छिड़ी प्रतिस्पर्धा ने शहरों को स्वच्छ बनाने में अहम भूमिका निभाई है। लक्ष्य २०१९ तक देश को स्वच्छ बनाने का है।

इस तरह मिले अंक : चार हजार से अधिक शहरों का सर्वेक्षण किया गया था। जिसके लिए ओवरऑल मार्क 4000 तय किए गए थे। जिसमें सर्विस लेवल प्रोग्रेस के 1400, डिस्ट्रिक्ट आब्जरवेशन के 1200 और सिटीजन फीडबैक और स्वच्छता एप्प के 1400 रखे गए थे। इस तरह एक प्रक्रिया के तहत सर्वेक्षण की गई और अब रैंकिंग आ गई है।

https://www.swachhsurvekshan2018.org/Scores/Index/802211

मप्र के इन शहरों को भी मिली जगह

स्वच्छता सर्वेक्षण 2018 टॉप 100 सिटी रैंकिंग में मध्यप्रदेश के इंदौर, भोपाल के अलावा खरगोन को 3297 अंक के साथ १५वां स्थान मिला है।

3198 नंबर के साथ उज्जैन को 17 वां स्थान

3222 अंक के साथ सिंगरौली को 23वां स्थान

3103 अंक के साथ मंदसौर को 24वां स्थान

3096 अंक के साथ जबलपुर को 25वां स्थान

2944 अंक के साथ छिंदवाड़ा को 42वां स्थान

2922 अंक के साथ सागर को 46वां स्थान

2893 अंके के साथ रीवा को 49वां

2796 अंक के साथ पीथमपुर को 62वां स्थान

2723 अंक के साथ देवास को 68 वां स्थान

2716 अंक के साथ नीमच को 70 वां स्थान

2712 अंक के साथ रतलाम को 72वां

2674 अंक के साथ होशंगाबाद को 75वां स्थान

2661 अंक के साथ नागदा को 79वां स्थान

2644 अंक के साथ बुरहानपुर को 81 वां स्थान

2609 अंक के साथ छतरपुर को 92 वां स्थान

2605 अंक के साथ सतना को 93वां स्थान

2588 अंक के साथ खंडवा को 99 वां स्थान प्राप्त हुआ है।

 

स्वच्छता सर्वेक्षण में मंदसौर को छठवाँ स्थान मिलने पर विधायक सिसौदिया ने दी बधाई 
स्वच्छता सर्वेक्षण में प्रदेश में छठवाँ और देश में 24 वाँ स्थान मंदसौर शहर को मिलने पर विधायक यशपालसिंह सिसौदिया ने प्रसन्नता व्यक्त करते हुए शहर की जागरूक जनता, नगर पालिका के अध्यक्ष, पार्षदों, अधिकारियों, कर्मचारियों को बधाई प्रेषित की है ।

विधायक यशपालसिंह सिसौदिया ने बताया कि शहर को म.प्र. के 10 शहरों तथा देश के 50 प्रमुख शहरों में शुमार किया गया है । मंदसौर शहर की जनता ने प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के स्वच्छता संदेश को अपनाकर जागरूकता दिखाई । नगर पालिका के जनप्रतिनिधियों और अधिकारी, कर्मचारियों ने सतत प्रयत्न कर शहर को स्वच्छ और सुंदर बनाने में अपना अहम योगदान दिया है । श्री सिसौदिया ने कहा कि ग्वालियर और जबलपुर जैसे महानगरों को पछाड़कर मंदसौर शहर का नाम न केवल प्रदेश बल्कि आज पुरे देश भर में गौरवान्वित हुआ है तो इस उपलब्धि में उस सफाई कर्मचारी के योगदान को भी भुलाया नही जा सकता जो देर रात तक शहर को स्वच्छ बनाने में अपना योगदान देता है और सुबह सवेरे उठकर एक बार फिर शहर को साफ और सुंदर बनाने के लिए परिश्रम करता है । श्री सिसौदिया ने इस महत्ती उपलब्धि पर पुनः मंदसौर शहर की जनता, स्वयं सेवी संगठन, मीडिया जगत, नगर पालिका अध्यक्ष सहित जनप्रतिनिधियों और पुरी नगरपालिका परिषद की टीम को बधाई देते हुए प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी का आभार व्यक्त किया है जिन्होने पुरे देश में स्वच्छता का अलख जगाया। जनता को प्रेरणा दी जिसे जनता ने भी स्वीकारा और स्वच्छता के अभियान में अपना अहम योगदान दिया है ।

About The Author

I am Brajesh Arya

Related posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *