Breaking News

IPL सटोरियों से पूछताछ में सामने आए शहर के बडे नाम

Hello MDS Android App

मंदसौर। आईपीएल क्रिकेट का सट्टा लिखने के मामले में वायडीनगर पुलिस ने 9 लोगों के खिलाफ कार्रवाई की। इनमें 3 लोगों को गिरफ्तार किया। एसआई समरथ सिनम ने बताया संत कंवरराम कॉलोनी निवासी गौरव समयानी (28), नूर कॉलोनी निवासी अरशद हुसैन (28), किटयानी निवासी महेश श्रीवास्तव (28) को गिरफ्तार किया। रिक्की उर्फ कप्तान, किशोर सेवानी उर्फ दबंग, जनकूपुरा निवासी चिंटू कोठारी, गांधीनगर निवासी लवि शर्मा, शंकर ककनानी और गोलू के खिलाफ केस दर्ज किया है। गिरफ्तार आरोपियों से 1 लैपटॉप, 2 मोबाइल, एलईडी जब्त की।

शहर कोतवाली व वायडी नगर पुलिस ने दो दिन में दो जगह पर कार्रवाई कर आईपीएल के मैचों पर सट्टा लगाने वालों के साथ खाईवालों पर भी प्रकरण दर्ज किया है। कुल 10 आरोपियों के खिलाफ प्रकरण दर्ज कर 3 को वायडी नगर पुलिस ने व 1 को शहर कोतवाली पुलिस ने गिरफ्तार किया है। आरोपियों के पास से लेपटॉप, मोबाइल, पेन ड्राइव सहित अन्य सामग्री भी जब्त की है। ये सभी लेपटॉप पर बेटिंग सॉफ्टवेयर से सट्टा कर रहे थे।

सीएसपी सांईकृष्ण थेटा ने बताया कि सोमवार रात व मंगलवार दोपहर में शहर कोतवाली व वायडी नगर पुलिस द्वारा की गई अलग-अलग कार्रवाई में आईपीएल मैच के दौरान सट्टा लगाने वाले व खाईवालों को पकड़ा है। पुलिस ने मंगलवार दोपहर में धानमंडी क्षेत्र में कार्रवाई करते हुए सुनील कोठारी को पकड़ा, जिसके यहां से एक लेपटॉप, पेन ड्राइव और बेटिंग सॉफ्टवेयर मिला है। इसमें लाखों रुपए के सट्टे का हिसाब-किताब था। इस सॉफ्टवेयर में ही फोन आते ही इंट्री हो रही थी। शाम तक शहर कोतवाली में इससे पूछताछ चल रही थी। वहीं पुलिस ने सुनील के बयान के आधार पर शंकर ककनानी, किशोर सेवानी, लवी शर्मा, चिंटू कोठारी, गोलू, कप्तान उर्फ विक्की पर भी प्रकरण दर्ज किया है। ये सभी खाईवाली का काम कर रहे हैं और अभी फरार हो गए हैं।

ट्रीट्स कॉर्नर पर भी लग रहे थे दांव
इधर सोमवार रात 8 बजे वायडी नगर पुलिस ने संजीत रोड पर स्थित यश बालाजी चौराहे के पास रेस्टोरेंट ट्रीट्स कॉर्नर पर छापामार कार्रवाई की थी। यहां से पुलिस ने 7 युवकों को उठाया था। जांच के बाद इनमें से तीन गौरव शामयानी, अरशद हुसैन, महेश श्रीवास्तव  पर प्रकरण दर्ज कर गिरफ्तार किया था। वहीं ये सभी मोबाइल पर जिनको सट्टा उतार रहे थे उनमें विक्की उर्फ कप्तान, किशोर सेवानी, चिंटू कोठारी जनकुपुरा, लवी शर्मा गांधी नगर, शंकर ककनानी और गोलू पर प्रकरण दर्ज किया था।

10 हजार रुपए एडवांस लेकर देते थे अपना नंबर
पुलिस ने इस मामले में जिन सात खाईवालों को पकड़ा है वे सट्टा लगाने वाले से 10 हजार रुपए एडवांस में लेकर अपना मोबाइल नंबर देते थे। जिस पर सट्टा लगाना था यह सिम सीधे लेपटॉप पर बेटिंग सॉफ्टवेयर से जुड़ी रहती है। बेटिंग सॉफ्टवेयर को सीधे क्रिकेट ऑनलाइन से भी जोड़ रखा है इससे इस पर स्कोर अपडेट होता रहता है।

उपरोक्‍त खबर में गलती से गौलू शाह का नाम टाईप हो गया था उसको शंकर ककनानी का मेनेजर गौलू (सिंधी) समझा जावे।

About The Author

I am Brajesh Arya

Related posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *